इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

मंगलवार, 30 नवंबर 2010

संसद चलने के आसार नहीं ...हमारी बला से..वैसे भी उसने चल के कौन सा देश चला लेना है ...झा जी वक्रदृष्टि टाईम्स .




खबर :- सरल हो टैक्स कानून की भाषा

नज़र :- लो कल्लो बात ..सब कुछ आसान और सरल चाहिए आपको आयं ...अमां एक बात सुनो पहिले यार ...ये अपना जो कानून है ..हां वहीं ..जिसके आंखों पर पट्टी बंधी है ...हां हां उसकी ही भाषा जब सरल नहीं है तो फ़िर टैक्स की भाषा क्या सरल होगी भाई । और यार भाषा सरल से मतलब ..अबे जितना कमाया है उसमें से सरकार को ..हफ़्ता ,महीना साल जो भी उसका बनता है ..अरे चुंगी हुंडी जो भी समझ के दो यार ..अब सरल भाषा में ....रुपैय्या को ...बटाटा वडा तो करेंगे नहीं ..तो फ़िर छोडो सरल उरल जल्दी जलदी टैक्स भरिए ..काहे से ..अभी कै ठो मंत्री सब एक दम निल चल रहा है जी ....तैयार तो है हाथ मारने के लिए ..मगर पैसवा हो त न ..भरिए भरिए

____________________________________________________
खबर -सचिन सहवाग पर बरसेंगें करोडों रुपए

नज़र :- हां तो हमको ई बताओ खाली कि ..हम लोग के करना का ई खबर से ...माने टोटल करें का ..कि ..पहिले ही जो करोडों बरस रहे हैं ..उमें ई बारिश को भी जोड लें । अरे कि ..ई खबर तुम लोग राष्ट्रमंडल खेलों में जीतने वाले खिलाडी लोग के लिए छापा है रे ..। अरे भाई हम लोग को पता है यार कि करोडों का बारिस ,.,,...खाली क्रिकेट में ही होता है ...तभिए तो ..ललित बाबू ..उसके ऊपर एतना मालदार लंबा चौडा डैम बना कर सबको डैम फ़ूल बना दिए न हो

___________________________________________________________


खबर :- अब जागी एमसीडी

नज़र :- अरिस्स ..तो जाग ही गई ..हमें तो लगा था कि ..कुंभकर्ण के बाद एमसीडी ही वो कलयुगीन एमसीडी है जो अधिकांश समय सोती रहती है ...धुर महाराज एक आध बिल्डिंग के गिरने से ..एमसीडी जैसे राक्षस का नींद टूटना कोई आम बात नहीं है ...अच्छा तो जागने के बाद का कही है एमसीडी ..। कह रही थी कि , एतना दिन से बडा वसूली का कौनो चानस मिलबे नहीं कर रहा है ...सीलिंग के बाद तो एकदमे मंदी का दौर आ गया है जैसे इ धंधे में ...इसलिए फ़ौरन ही कुर्सी टेबल मार्केट को ढहा दिया लप्प से ..अब बांकी लोग अपने दे के जाएगा ...अब नींद से जागा है तो भूख तो लगले होगा न जी .....नास्ता उस्ता तो करबे करेगा न ...देखिए केतना को खा जाता है

__________________________________________________________
खबर :- गुम फ़ाइलों की जांच अब क्राइम ब्रांच करेगा .....

नज़र :- ओह तो बात क्राईम ब्रांच तक पहुंच गई ..बहुत गंभीर मामला है ई तो ..हां हां ठीक किया है एकदम ..अब तो खाली क्राईम ब्रांच पर ही भरोसा किया जा सकता है ..अरे यार ऊ लोग ...भारत का न न है ..साईत रे ..हम ओतना सियोर नहीं है ओईसे ...मुदा जब सरकार एतना कान्फ़िडेंस दिखा रहा है तो कुछ तो होगा न यार बात अलग ...हो सकता है कि नेपाल उपाल से फ़ोर्स मंगवाया हो लोग ..। मगर रे ..तिवारी ...एक प्रॉब्लम है ई मे ..एक्चुअली ऊ लोग को अपना फ़ाईल ही नहीं मिल पा रहा है कै दिन से ..बेचारा सब कह रहा था कि पहिले अपना फ़ाईल सब ढूंढेंगे ..तब ऊ बकिया सब भी ढूंढ लेंगे ..अरे चुटकी का काम है भाई ...

___________________________________________________________
खबर :- देश में न्यायपालिका की वजह से ही न्याय जीवित : वीरप्पी मोइली

नज़र :- त ..एकदम ठीक कहे हैं सर ...वीरप्पन ..ओह ओह ...वीरप्पा मोइली सर ..न त नेतवन सब का कारिस्तानी से तो कब्बे से डूब के मर गया रहता जी ..अब तकले तो न्यायपालिका का लहास भी ..तैरते हुए उपर आ गया होता ...तब । लेकिन जान रहे हैं ..आजकल तो सुने हैं कि न्यायपालिका में भी कुछ तो भी चल रहा है जी ..सुने हैं कि डेली एनिसथिसिया का एक ठो इंजेक्शन भोंक रहे हैं ..माननीय लोग ...खुदे ..बताईये ..खैर जाए दीजीए ओईसे बहुत बार आम पब्लिक को संदेह हो जाता है महाराज की ..अईसा खाली मोइली जी ही सोचते होंगे ..अरे न्यायपालिका की वजह वाला बात नहीं जी ...न्याय जीवित है ..ई वाला

________________________________________________________________________________________________________
खबर :- विश्व कप से पहले वापसी करूंगा : इरफ़ान पठान

नज़र :- ऐ टाईम से कर लेना इरफ़ान भाई ...काहे से कि यार जरूरी नहीं कि आदमी रिवर्स गियर में भी ओतना तेज़ ही गाडी चला पाए ....वापसी कहे न इसलिए हम सजेस्ट किए आपको ..विश्व कप से पहले जेतना मैच ऊच हो रहा है उसमें आपको तो न न देख पाएंगे ..ई बात तो लगभग श्योरे है न जी ...क्या..का कह रहे हैं मर्दे ...आप ई बतवा टेलिविजन एड के लिए बोले हैं ..अरिस्स साला ..गजब ई तो हम सोचबे नहीं किए थे ..तो माने कि टेलिविजन एड में आप वापसी करोगे ....जी हमारा बेस्ट ऑफ़ लक है जी ..महाराज खेलने के लिए तो कैन जना हईये है ..एड के लिए सलेक्टेड च्वाइस है जी हमारा भी

________________________________________________________________________________________________________


खबर :- कैटरीना का अब तक का सबसे जोशीला गाना है शीला

नज़र :- अरे का कह रही हैं आप ...ई गनवा ऊ ..hevard 5000 ...पीकर की हैं का ...?? तब ? अरे नहीं नहीं ..जरा जरा किस मी किस मी किस मी ..जरा जरा ..वाला गनवा में भी हमको जरा सा जोश नहीं दिखा था ..एकदमे बहुत जोस था ..बहुते था ...देखने वाले में सीधा भर रहा था । तो शीला सबसे जोशीला गाना है ..अरे नहीं पूरा बात लिखिए जी ...समाचार में ...कहिए कि ......शीला नहीं ....सीला का जबानी ....अरे तब्बे न ..लीजीए तो ईमें कौन बहादुरी है जी ..ई नाम का एक ठो पोस्टर ..हमको याद है कि ..जमाना पहिले ...वीर रस से ओतप्रोत ..सिनेमा का एक ठो अईसा ही पोस्टर ....एक टाईम में हरेक ..सहर का एक ठो खास दीवार ..(.बहुत महकता रहता था जी ऊ दीवार ) के ऊपर जरूरे चिपका रहता था ..आज कैटरीना ने सिने जगत का ऊ गोल्डेन डेज़ को एक ट्रिब्यूट दिया है जी

________________________________________________________________________________________________________
खबर :-खर्राटे भरने से जान को खतरा

नज़र :- ले बिल्लैय्या ....अईसन घमसान खबर सुनाए हो यार ..खर्राटा भरने से ..अबे ई कोई CNG है कि ....भरने से ..अरे उ तो ससुरा भरा ही रहता है ..जो रात्रि कालीन सेवा में ..बिना साईलेंसर के निकलता ही रहता है ..हां ई हो सकता है कि , कि जादे खर्राटा भरने से किसी दिन आपकी मेहरारू ..आपको पलंग से खींच कर सर के बल इस तरह से गिरा दे कि पुलिस को वो ...ब्रैन हैमरेज का केस लगे ..अरे कमाल है ...छोडिए छोडिए गया वो जमाना जब मेहरारू इस्मार्ट नहीं होती थी ...अब इत्ता काम सीरीयल देख कर कौन न समझ लेगा जी .या किसी दिन आप अपने अंदर भरे हुए खर्राटों को बाहर निकालते निकालते ...खुद ही निकल लें ...ओह इतनी ट्रैजिक खबर

________________________________________________________________________________________________________
खबर :- संसद चलने के आसार नहीं

नज़र :- हा हा हा अच्छा अच्छा ..अब मौसम विभाग ये सब भी बताने लगा ..। अबे छोडो यार , ..जिस तरह से बारिश और सूखे के आसार मौसम विभाग के पल्ले नहीं पडता ठीक उसी तरह से हमारे पल्ले भी एक ही बात पडती ....."उस दिन यदि , आतंकियों कामचोरी न की होती...तो कम से कम संसद भवन का बनना कुछ तो सार्थक होता .....सोचिए कि एक साथ कितना गंद निकल गया होता देश का " ...तो खैर जब ये ऊ लोग साले कर ही नहीं पाए ठीक से ..फ़िर का फ़ैदा चले न चले ..हमारी बला से..वैसे भी उसने चल के कौन सा देश चला लेना है ....मारिए जी छोडिए

________________________________________________________________________________________________________
खबर :- दिल्ली के दो मंत्रियों के कार्यालयों में ही बापू की तस्वीर

नज़र :- हां तो ..अबे कहना का चाह रहे हो बे ...ई कि देखो अभियो तकले दु ठो मंत्री का चेंबर में गांधी जी टंगल हैं ...माने ओतना दिन से उसमें चुना पुताई आदि नहीं हुआ है ...अरे पगला है क्या जी ...चूना पोताई के बाद थोडी को लगवाया है गांधी जी का फ़ोटो ..आ कि ई कहना चाह रहे हो कि ..ल्यो और मनाओ ...कांग्रेस का हाथ आम आदमी के साथ ....और जब हाथे कांग्रेस के साथ चला गया तो ..फ़िर बापू के साथ कौन रहेगा ..अरे ...कांग्रेस मतलब ..न बूझे जी ..सरनेमवा गांधी जी ..और फ़िजिकल प्रेजेंस ..नेहरू फ़ैमिली का ...हमारे हिसाब्से दुनु मंत्री की चैम्बर सील कर देना चाहिए

________________________________________________________________________________________________________
खबर :- अब बाघों को बचाएंगी प्रीति

नज़र :- अबे बचे नहीं क्या अब तक ...यार १४११ के हल्ले के बाद तो हमने ध्यान ही नहीं दिया इस बात पर ..सच कहें तो हमें तो लगता है कि , खुद बाघों ने भी ध्यान देना छोड दिया था ....सोचा होगा कि अब जब सरकार इत्ते लोगों को सोचवा रही है .....तो फ़िर बचेंगे कैसे नहीं ..। मगर अब जबकि प्रीति जिंटा ने भी उन्हें बचाने के लिए कमर कस ली है तो फ़िर बाघों का थोडा सा ..blushed and embarassed टाईप का फ़ील होना तो natural हुआ न जी । मगर हमारा कहना इतना है कि ..पहले प्रीति खुद को बचा लें ....फ़िर उन्हें बाघों की तरफ़ ध्यान देना चाहिए

8 टिप्‍पणियां:

  1. अरे भैया, संसद नहीं चलने देने के अब तिगुने दाम वसूल करेंगे हमारे नेता लोग :)

    उत्तर देंहटाएं
  2. अब इतना खामियाजा भुगतने की आदत तो जनता को बाय डिफ़ॉल्ट पडी ही हुई है चंद्र जी

    उत्तर देंहटाएं
  3. हा हा हा हा
    मस्त...धमाकेदार...जोशीला...मसालेदार खबर...:) :)

    उत्तर देंहटाएं
  4. झा जी कवनो बचेगा की नहीं इस वक्रदृष्टि से

    उत्तर देंहटाएं
  5. बहुत खूब है, यह अंक भी, हमेशा की तरह.

    उत्तर देंहटाएं
  6. प्रीटी ज़िंटा ने जिम्मेदारी ली है तो अब बाघ बचेंगे ही । लेकिन उन्हें रोमांचित होने से कोई नहीं बचा सकेगा !
    बढ़िया चटपटी खबरें ।

    उत्तर देंहटाएं
  7. ख़बरों की खबर लेते हुए आपने कई सच्चाइयों को कुरेद कर रख दिया है !
    पोस्ट अच्छी लगी !
    -ज्ञानचंद मर्मज्ञ

    उत्तर देंहटाएं

हमने तो खबर ले ली ..अब आपने जो नज़र डाली है..उसकी भी तो खबर किजीये हमें...

Google+ Followers