इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

शुक्रवार, 8 अक्तूबर 2010

हर कुंवारा प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति नहीं बन जाता ...........कुछ बौरा भी जाते हैं ....झा जी अगैन कहिन






खबर :- सिमी और आर एस एस दोनों आतंकी संगठन हैं :राहुल गांधी

नज़र :- लो हमें तो पहिले ही शक था कि ..ई जो राहुल बाबा अपने पचासा में पहुंचने जा रहे हैं और अब तकले कुंवारे बैठे हैं तो इसका मतलब ..देश ये कतई न लगाए कि ..उसे फ़िर से ..एक ठो कुंवारा ..प्रधानमंत्री या मिसाईल मैन टाईप राष्ट्रपति मिलने वाला है ......अजी कभी कभी कुंवारेपने से लोगबाग बौरा भी जाते हैं ...। अब देखिए न ..एके चशमा के दुनु शीशा से देखने के कारण उनको ..सिमी और आर एस एस ..उनको एके जैसा दिखाई दे रहा है ..। ले बिल्लैय्य्या .....इ हिसाब से तो ..कांग्रेस और बसपा , सपा ..और जितने भी टाईप के पा हैं ....सब के सब ससुरे निकम्मे और नकारा हैं ......पूछो कईसे ...???। क्यों बे ...जब राहुल बाबा से किसी ने नहीं पूछा कि आखिर ये ..निर्वाण प्राप्ति टाईप का दिव्य ज्ञान उन्हें किस पीपल के पेड के नीचे प्राप्त हुआ तो फ़िर हमसे काहे पूछेंगे जी । हमको तो लगता है कि जौन किताब से ऊ दुनु एव्रीविएशन का फ़ुल फ़ार्म पढ रहे होंगे न ..जरूर उसीमें मिस्टेक से कुछ मिस्टेक छप गया होगा .....जरूर इटली का पब्ल्केशन होगा ...ऊ है न पेंगुईन ..अरे नहीं नहीं ..पिज्जा पब्लिकेशन ।

________________________________________________________

खबर :- पोलैंड की महिला ने नशे में हंगामा किया

नज़र :- आयं ! यो के मामला है भाया ...पहले तो मन्ने ये बताओ ...महिला पो लैंड की थी या डायरेक्टली ....पी लैंड की ..तभी तो पी कर हंगामा किया ........और नशे में ..हंगामा ही किया जाता है बे ....और क्या नशे में ....तुम उससे पीएचडी करवाओगे ..। और जिस हिसाब से भारत ने राष्ट्रमंडल खेलों में बांकी सभी देशों को कमंडल पकडा कर खुद ही सारे मंडल (मेडल ) कपच लिए हैं ..उससे ऐसा सदमा लगना तो स्वाभाविक ही है । क्या कहा ..वो दूतावास की महिला थी .....अच्छा अब बेवडियों की भरती भी होने लगी इत्ती बडी बडी जगहों पर ........बताओ यार कित्ती तरक्की कर ली दुनिया ने ....और एक हम हैं जो आज तक ..मुन्नी के झंडु बाम ..होने भर से बौराए पडे हैं ....जय हो पोलैंड की ...ओह सॉरी ..पी लैंड की ।

_______________________________________________________


खबर :- डीटीसी बसों में उपलब्ध शिकायत सुझाव पुस्तिका समाप्त

नज़र :- हा हा हा हा हा ......अबे हमें तो लगा था कि खबर आएगी कि दिल्ली की सडकों से डीटीसी की बसें ही समाप्त हो गई हैं ...तुम तो फ़िर भी शिकायत सुझाव पुस्तिका समाप्त होने की बात कर रहे हो ..। क्या सच कह रहे हो भाई ....मगर यार पहले ये बताओ ये होती कैसी है ...हमने तो आज तक नहीं देखी ...कौन से रंग की होती है बैंगनी या गुलाबी ...और भईया चलो मान लिया कि ..खत्म हुई है तो होती भी होगी ही ....मगर यार थोडी मोटी ..जादे पन्नों वाली तो बनानी चाहिए थी न ...अब इत्ते अंग्रेज बुलाओगे तो भईया ...वे तो तुम्हारे टायर की हवा कम होने से लेकर ..गंदी टूटी खिडकियां तक के बारे में सुझाव लिख डालेंगे । अब वे हमारे जैसे तो हैं नहीं कि ...छेडछाड और स्टैंड से आगे पीछे रोकने तक की बात को भी झेले जाएं ...। अब अंदाजा लगाओ कि अभी तो उन्हें दो हफ़्ते तक रुकना है ....तुमने तो ससुरा कोर्स की खत्म कर डाला । भईया ..आप लोग तो बडे जिल्द वाली मोटी मोटी सी शिकायत और सुझाव पुस्तिका बनवा ही डालो ...जब वे चलें जाएं ..बेशक डीटीसी वाले स्टाफ़ को ही दे देना ..ताकि वे उसमें पहले की तरह अपने बच्चों से रफ़ काम करवा सकें ।

____________________________________________________


खबर :- स्वीमिंग पूल के पानी में नहाने से हुए दस खिलाडी बीमार

नज़र :- अब ये तो यार हद है छीछालेदारी की ....स्वीमिंग पूल में नहाने से बीमार हो गए ..कल को कहोगे कि ...शौचालय के कमोड पर बैठने से फ़्रेक्चर हो गया ..परसों कहोगे कि ..दरी में से डायनासोर ने निकल कर काट लिया ..। जाओ जाओ बे ..अबे हार रहे हो तो ..बहाना बना रहे हो ताकि मार न पडे अपने देश जाकर ....। वैसे एक बात बताओ .....न तो हमारे उन कुत्तों की तबियत खराब हुई जो उसमें मजे ले ले कर कित्ता नहाते रहे ..तुम्हारे आने से पहले ..और तो और उन मच्छरों ने भी कभी ऐसी कोई शिकायत नहीं की ...कि कभी उन्हें किसी प्रकार की कोई दिक्कत हुई हो ......हमारी तरक्की नहीं हजम हो रही है न तुमसे इसलिए फ़ुंक फ़ुंक कर ऐसी बातें कर रहे हो ...। सुनो एक काम हो सकता है ...चलो तुम लोग जित्ते दिन हो यहां यमुना नदी में नहा लो ...अब देखो यार ये मत कहना कि ...इससे तो फ़िर ये स्वीमिंग पूल ही ठीक है..चलो आगे तुम्हारी जो भी मर्जी ॥

_____________________________________________________

खबर :-बाबरी मस्जिद फ़ैसले को खारिज किया :बुखारी

नज़र :- अब भैय्या ...बुखारी , अचारी या बीमारी ....आप जो भी हो ...आपको पहिले तो हम ये बता दें कि , ये तो न्यायालय के फ़ैसले होते हैं न ...ये कौनो बारात का इन्विटेशन नहीं न होते हैं कि ......आप उसे एक्सेप्ट करो या कि खारिज करो .....जैसा कि आप फ़रमा रहे हो । वैसे मियां जी ........यार आप लोग को भी केतना टेंशन है न ....ओईसे तो लोग घास डालता नहीं है .....न ही कोई पूछता है .....ई सब आयं बायं बोलते रहने से ...कम से कम ई बेचारा खबर वाला सब को तनिक कुछ मेटेरियल तो मिल जाता है छापना के लिए । आपने खारिज कर दिया .....त अब क्या किया जाए बताईये ...बंद कर दिया जाए उच्च न्यायालय को ...आ कि उ न्यायाधीश सबको ...वोलेंटरी रिटायरमेंट दिलवा दिया जाए ....कि देखो जी ..अभी तक तो बुखारी जी ने ...बुखार से पीडित होकर आपका फ़ैसले को खारिज किया है ....कल को यदि ये बुखार डेंगू बुखार में परिवर्तित होता है तो हो सकता है कि ....आपको ही खारिज कर दें .....अरे नहीं नहीं ...जब आपने खारिज करिए दिया है ..तो काहे की शरम ..बता डालिए सब कुछ आखिर चाहते का का हैं ....????

______________________________________________________________________________________



खबर :- बिग बॉस चाहते हैं

नज़र :- अबे ये बिग बॉस ...इत्ता चाहते ही क्यों हैं ये बात आज तक अपने पल्ले नहीं पडी ...। साला जब देखो ...बिग बॉस चाहते ही रहते हैं ...अबे इतना तो कोई बॉयफ़्रेंड अपनी गर्लफ़्रेंड को नहीं चाहता ...जितना ये बुड्ढा ( यार आवाज से तो कतई नहीं लगता कि कोई ..छौंडा होगा ये बिग बॉस ) चाहता रहता है ......और फ़िर देखिए तो सही चाहते क्या हैं । कुछ लोगों की गिरोहबंदी कर दी .....गिरोहबंदी के साथ नज़रबंदी भी .....और लोग भी क्या क्या कमाल ...कोई डाकू ..कोई चोर ..कोई वकील ...कोई हसीना ..कोई कमीना ......वाह वाह इत्ती वेरायटी होगी तो कोई भी चाहने ही लगेगा न ...। और फ़िर कौन सा मामला इत्ते भर से खत्म हो जाता है .....बिग बॉस चाहते हैं कि ....सभी आपस में लडते लडाते रहें ...इससे जो भी समय मिले ....उसमें वो स्वीमिंग पूल में नहाते रहें .....और पूरा देश बौराया हुआ देखता रहे और कहता रहा कि वाह ....बिग बॉस क्या चाहते हैं ??

_____________________________________________________

खबर :- अब ओलंपिक कराने में भी सक्षम हैं हम :- शीला दीक्षित

नज़र :- क्या के रही हो मौसी ....इत्ता भयानक कौंफ़िडेंस .....हैं ..वो भी जब ताजा ताजा आपको ब्रेन स्ट्रोक से राहत मिली हो तब .....डायरेक्ट ओलंपिक ...अमां मौसी उसमें तो पूरा विश्व ही शामिल होता है .....देश के सारे कुत्ते घूमने लगेंगे इत्ते बडे आयोजन में तो ..। वैसे मौसी सुना तो ये है ...कलमाडी मामा ने अपना गुल्लक इत्ता भर लिया है कि अब बेचारे खते फ़िर रहे हैं ....हाय इसमें से बहुत सारा पैसा तो मेरी सात पुश्तें तक खा पचा नहीं पाएंगी ....और आप हो कि ओलंपिक की बातें करने लगी हो ....। मौसी ये बात मामा ने सुन ली तो मारे खुशी के ....वे तो निकल लेंगे सीधा ....नर्कलोक एक्सप्रेस वे के रास्ते पर । वैसे मौसी एक बार हो ही जाए ओलंपिक भी ...हमारे पास कौन कुत्तों और मच्छरों की कमी है ...पूरी बटालियन को तैनात कर देंगे कि सालों काट खाओ ..पूरे वर्ल्ड को दे कटाकट कटाकट ...। वैसे मौसी अब तो आपको घना ही एक्सपीरिएंस हो गया होगा .......अरे खेल आयोजन का नहीं .....दिल्ली को उल्लू बनाने का .....हां तो अगला ...न सही उससे अगला ओलंपिक तो हो ही जाए ....भारत में ।

________________________________________________________

खबर :- शीला के अपमान पर न्यूजीलैंड ने माफ़ी मांगी

नज़र :- लो ....कल्लो बात ..हो गया न ..बस हम तो कह ही रहे थे ....अभी मौसी ने बोला नहीं कि हुई गया बवाल ..अब मौसी यों बोलेगी तो ..यो न्यूज के लैंड वाले कब चुप बैठेंगे ...वे तो बैठे ही इसी ताक में रहते हैं ..अब ये हो गए अपना ऑस्ट्रेलिया हो गया ...वे तो बेचारे यही करते आए हैं आज तक ...अरे उनकी तो हॉबी है ...अपमान करना ...और उससे बडी हॉबी है ...फ़टाक से माफ़ी मांग लेना ....। देखते नहीं क्रिकेट में तो वे बराबर यही हॉबी पूरी करते रहते हैं ...। तो पहले अपमान कर दिया ...फ़िर माफ़ी मांग ली ...तो बच क्या गया भाई लोगों ...........यार कित्ता पढाते पकाते हो तुम लोग खबर के नाम पर .....



जाओ अब नहीं पढना आगे ...अब अगली किस्त बाद में पढेंगे ........

25 टिप्‍पणियां:

  1. वैसे एक बात बताओ .....हमारे उन कुत्तों की तबियत खराब हुई? जो उसमें मजे ले ले कर कित्ता नहाते रहे ..तुम्हारे आने से पहले ..

    क्या अजय जी! सारी पोल खोल दी :-)

    उत्तर देंहटाएं
  2. भई वाह, इतनी साडी खबरे एक ही पोस्ट में कमाल है ...
    थोडा समय यहाँ भी दे :-
    आपको कितने दिन लगेंगे, बताना जरुर ?....

    उत्तर देंहटाएं
  3. मान गये झा जी !

    बहुत मेहनत और बहुत दिमाग लगा कर पोस्ट लगाते हो..

    बधाई !

    उत्तर देंहटाएं
  4. एक पूरा अखबार ऐसा ही चाहिए, बहुत बिकेगा।

    उत्तर देंहटाएं
  5. वाह, क्‍या बात है. एक बारगी तो लगा जैसे बिना अखबार सवेरा बड़ी मुश्किल से होता है वैसी ही है आपकी खबर और नजर. यह तो 'आप फरमाते हैं' की तरह रोज सुबह अखबार में मिल जाना चाहिए, लगता है अखबार वालों की नजर इस पर नहीं पड़ी है.

    उत्तर देंहटाएं
  6. आनन्द आ जाता है ...कबर की खबर और मजे का मजा...जय हो झा जी की.

    उत्तर देंहटाएं
  7. ई राहुल जी की क्या कहा जाए अजय जी, ये लोग तुष्टीकरण की चरम सीमा पर जाकर बैठ गए हैं... मज़ा आ गया सारी ख़बरें पढकर. खासकर "दरी में से डायनासोर ने निकल कर काट लिया ."
    सुबह-सुबह मूड फ्रेश हो गया.

    उत्तर देंहटाएं
  8. वाह बड़ी मेहनत से तैयार की है पोस्ट..... बहुत बढ़िया

    उत्तर देंहटाएं
  9. हास्य का पुट लिए आपने खबरों की बहुत बढ़िया खबर ली है

    उत्तर देंहटाएं
  10. लो कर दिया ना सबका हर हर महादेव एक ही पोस्ट में.:) सटीक और प्रभावी.

    रामराम.

    उत्तर देंहटाएं
  11. लो कर दिया ना सबका हर हर महादेव एक ही पोस्ट में.:) सटीक और प्रभावी.

    रामराम.

    उत्तर देंहटाएं
  12. ख़बरों की खबर बहुत ज़ोरदार रही ...एक से बढ़ कर एक :):)

    उत्तर देंहटाएं
  13. अहा!
    अच्छा!
    बढ़िया!
    उत्तम!
    अति अहा!
    अति अच्छा!
    अति बढ़िया!
    अति उत्तम!

    उत्तर देंहटाएं
  14. सत्य वचन।

    इसके पहले भी अर्जियाएं हैं कि टिपियाने में बहुत 'हालाते मुश्किलात' का सामना करना पड़ता है।

    उत्तर देंहटाएं
  15. कुछ बौर आ जाते है पर आम भी नहीं बनते ना :)

    उत्तर देंहटाएं
  16. आदरणीय गगन जी , लगता है कि आपके ब्राऊज़र के साथ ही कुछ दिक्कत है ..अन्य कोई मित्र भी कहे तो पता चले वैसे मैं पाबला जी से मदद लेता हूं इस मामले में ..

    उत्तर देंहटाएं
  17. ई खबरीला चैनल वाह मज़ा आ गया अजय भैया
    सिमि से तुलना करके रजनैतिक ब्याना दे दिया

    उत्तर देंहटाएं
  18. छोरा सच छिछोरा निकला
    आयटम बाय टाइप का

    उत्तर देंहटाएं
  19. भूल सुधार
    रजनैतिक ब्याना=राजनैतिक बयाना

    उत्तर देंहटाएं

हमने तो खबर ले ली ..अब आपने जो नज़र डाली है..उसकी भी तो खबर किजीये हमें...

Google+ Followers