इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

सोमवार, 27 दिसंबर 2010

इश्पेसल बुलेटिन है ..झा जी स्टाईल में






खबर :- संगीत से भरेंगे सर्जरी के घाव

नज़र :- अच्छा ई बात सुन कर हिमेस रेसमिया नाम के एक आदिकालीन राजगायक जिन्होंने त्रेता युग में नासिका संगीत का अविष्कार किया था उन्होंने खुशी खुशी बताया कि ..ये बहुत बडी महत्वपूर्ण खबर है ....क्योंकि अब उन्हें पूरा यकीन है कि ..अब वे उन लाखों लोगों के घाव को अपने संगीत से भर सकेंगे ...जिन्हें हिमेस के गाने सुन कर ही घाव हो गया था ॥ इसलिए आप बस ये ध्यान रखें कि घाव किसके गाने सुनकर हुआ है .,.,..ये हैं चिकित्साजगत का एक क्रांतिकारी आविष्कार ..जय हो साईंस ..की..अरे यार ये साईंस का जनक जानकी कौन थे कुछ पता है क्या आप लोगों को ...चलो तब तकले ..स्कूल की साईंस वाली ..मैडम की जय


सोमवार, 13 दिसंबर 2010

आज की ताजा खबर ..आज की ताजा खबर ..दो रुपए साहब ...सिर्फ़ दो रुपए ...पढिए न





खबर :- अदालत में ही भावुक हो गई पूर्व अधिकारी

नज़र :- हा हा हा कौन थी रे एतना इमोसनल अधिकारी ..ओहो नीरा मैडम ...ओह नीरा कोई न जाना तेरी पीर ..इत्ता बडा घोटाला फ़िर भी आखों में नीर । अरे तो इसमें खबर क्या है बे । अबे ओ ई तो अब आम पब्ल्कि को पता हईये है कि जईसे ही अदालत में उपस्थित होता है ...ई तमाम मासूम लोग सब पहिले इमोसनल हो जाता है ..फ़िर लप्प से अगिला दिन कौनो फ़ाईव स्टार होटल ओह अस्पताल में जाके घोलट जाता है कि ई कह के ...उनका दिल कमजोर है ..और सरकार और आम जनता द्वारा उनको पकड के उनके कमज़ोर दिल को और भी कमज़ोर करने का भयंकर अपराध किया गया है इसलिए उनका इमोसनल होना और पेसेंट होना भी ..बनता है यार ..एकदम किटकैट ब्रेक की तरह

________________________________________________________________________________________________________
खबर :- पाकिस्तान से आतंक मंजूर नहीं सरकोज़ी

नज़र :- अच्छा , मतलब पहली बार हुआ है कि किसी ने आतंक की क्वालिटी पर सवाल उठाया है ..कि नहीं जी हमें तो पाकिस्तान से आतंक मंजूर नहीं ..एकदम खालिस क्वालिटी का ओसामा मुजाहिद्दीन का आतंक मंजूर है । मगर सर कोजी जी ,जी ...ई कोई बात नहीं हुआ ..अरे नहीं मतलब कि यार ई कौन मतलब हुआ जब पूरा वर्ल्ड पाकिस्तान से ही आतंक का खेप मंगा रहा है तो आप उसमें कैसे आपत्ति कर सकते हैं जी । अरे विश्वास नहीं है आपको ई साला अपना अमरीका भी अईसन बुडबलेल देश है कि उउ भी साला जाने केतना पैसा दे दे के आतंकवाद खरीदता है पाकिस्तान से अपना लिए ....हा हा हा बताईये है न ट्रेजडी ..अरे भाई जो अलेल बलेल पैसा देते हो ..कभी पूछे हो कि उ पैसा से केतना लोग को घर बार बना के दिया है ..अरे फ़िर भी पाकिस्तान से ही आतंक का वर्ल्डवाईड डिलिवरी होता है यार ..इहे दस्तूर हो गया है न

________________________________________________________________________________________________________
खबर :- डीडीए फ़्लैट्स के लिए सात लाख फ़ार्म बिके

नज़र :- बिक गए ..साला इतना घोटाला घपला होते रहने के बावजूद बिक गए ...ओह कितना बिकाऊ बिकाऊ टाईप समाचार है यार । हम अईसा समाचार सुनते हैं तो सोचते हैं कि ..अबे क्या है बे ..एक तरफ़ तो घटोला , भ्रष्टाचार जाने कौन कौन नारा उरा धांय धांय उडाते रहते हो ..और जब समय आता है तो ..लो जी सात लाख तो अब तक आ गए हैं ..अरे अभी तो लास्ट डेट में बहुत लेट है जी ....अब ई डीडीए का एक स्टॉफ़ प्रति घंटा के हिसाब से भी धरोगे घूस लेते तो मानेगा ..न न ..एतना पईसा से ओईसे ही लोग जोसियाया रहेगा ..बेचो बेचो ..हम तो कह रहे हैं कि साला डीडीए को अब ..एक ठो फ़ार्म में ई नहीं लिखे कि फ़्लैट कहां मिलेगा ..आ भरवा ले सबसे फ़ार्म आ बाद में जाके अंडमान निकोबार में दे दे सबको एक एक द्वीप अलॉट करके ..कि लो रे लॉटरी खुल गया तुम लोग का ..अब बेच के दिखाओ इसको दुगुना तिगुना दाम पर ..

________________________________________________________________________________________________________
खबर :- मायावती ने किया १५ योजनाओं का लोकार्पण

नज़र :- अरिस्स ..कर दीं बहन जी ...एक तो बहन जी ..जब तब लोकार्पण कर देती हैं ...अरे आप बहन जी हैं ..तो इस हिसाब से आपको साल भर का लोकार्पण रक्षाबंधन के दिन ही करना चाहिए । ओह अच्छा अच्छा तो ई कहिए न महाराज ...मायावती कही हैं कि पंद्रह में से सोलह योजना है मूर्ति बना के गाडना ..आ चाहे गाड के मूर्ति बनाना ..ओहो तो इसमें परेसानी वाला कौन बात है अरे पंद्रह में से सोलह माने कि ..मूर्तिया एक एक्स्ट्रा लेके न चलना होता है ...आखिर संविधान का पूरा भार उठाए रहते हैं न ..आ अब तो उसमें संशोधन भी होते रहता है रोज रोज ..इस लिए ..तो यूपी को ई नयका मूरुतिया सब ...बहुत मुबारक हो ...कुछ दिनों में ही नारा लगेगा ..यूपी में है दम , क्योंकि यहां आदमी हैं कम ....अरे जादा मूर्तियां न हो जाएंगी एक दिन ..

________________________________________________________________________________________________________
खबर :- सरकार की आर्थिक नीतियों के खिलाफ़ व्यापारी लामबंद

नज़र :- किसके खिलाफ़ बे ...लामबंद हो रहे हो ...नहीं हो जाओ , देखो उसमें कोई खास ऑजेक्शन नहीं है हमको लेकिन जो चीज़ है ही नहीं ...अबे एक बात बताओ ..साला अब भी तुमको ई पूछने बताने का जरूरत है रे कि सरकार कोई आर्थिक नीतियां नहीं हैं ..अबे आर्थिक क्या अब तो सबको लग रहा है कि कौनो टाईप की नीतियां नहीं हैं ..और जिस हिसाब से फ़ीलिंग का भाव गिर रहा है कुछ दिनों में तो लगने लगेगा कि सरकार भी नहीं है .,....हां व्यापारी सब को लामबंद होना ही चाहिए ...मगर यार नक्काली के खिलाफ़ होओ न यार ..मतलब कुछ तो लॉजिक होना न चाहिए

________________________________________________________________________________________________________
खबर :- गतिरोध जारी , कहीं बेकार न हो जाए सत्र

नज़र :- अबे छोडो बे नाटक है ई सब ...बेकार न हो जाए सत्र ...यार सत्र को तो चलो ई मान लेंगे कि एक बार और सत्र बेकार गया ..मगर यार अब तो लगता है कि संसद ही बेकार है .;..और सुने हैं कि एक ठो मुखमंत्री जी भी यही बोले हैं कि राज्य सभा की का जरूरत है ...तो जरूरत के हिसाब से न राज्य सभा की जरूरत है न लोक सभा की और न ही आम सभा की ..अबे सभा करना कोई जरूरी है रे ..तुम लोग के सभा उभा से साला आज तक एक आदमी का भी पेट भरा हो तो बताओ ...अरे और लोगन का छोडो ..तुम लोग का ही पेट नहीं भरा है यार अब तकले ..केतना तो आजादी के बाद से सभा करते आ रहा है ..इसका आधा सभा के आयोजन में तो अंग्रेजवा सब भाग गया था देस से

________________________________________________________________________________________________________
खबर :- आमिर दस किलो वजन घटाएंगे

नज़र :- हां तो घटाओ घटाओ ......अरे यार ई घटाओ बढाओ वाला फ़ैसिलिटी तुमही लोग को अवेलेबल है भाई ..साला बाल कटा लोगे तो वजन कम हो जाएगा ..बढा लोगे तो खली बन जाओगे ..ओईसे भी सुने हैं कि मंगल पांडे के बाद गजनी करने के लिए तुम जैसे ही टकले हुए न तो दस किलो वजन कम हो गया था तुम्हारा रे ...हम तो बस एतना जानते हैं कि तुम चाहे कौनो इडियटपना करो ..मगर आदमी तुम जीनियस है रे ....इसलिए ..जल्दी लाओ ..आमिर खान का स्लिम मौडल ..साले नोकिया स्लिम को भी कांप्लैक्स हो जाएगा इससे ।

________________________________________________________________________________________________________
खबर :- डाकघरों में खाली पडे हैं पचास हजार पद

नज़र :- देखो रे , जिस हिसाब से लोग अब चिट्ठी लिखना छोड दिया है उस हिसाब से डाकघर में , मदर डेयरी का बूथवा न तो परचून अरे किराना का मर्दे और का , दुकान गुमटी सब खोल देना चाहिए । पद खाली पडे हैं का तो ....अरे पचास हजार पोस्टकार्ड और अंतर्देशी भी नहीं लिखा जा रहा है आज ..ऊ भी खाली पडा है उसको भरने का है कौनो जोगाड नहीं न । तो फ़िर पडे रहने दो खाली उन पदों को भी

________________________________________________________________________________________________________
खबर :- २४ घंटे बाद भी पुलिस खाली हाथ

नज़र :- अबे कौन पुलिस है बे ..इतनी काहिल ..यहां मिनट के हिसाब से कमाई हो जाता है और ई है कि चौबीस घंटे बाद भी खाली हाथ ही घूम रही है । ओह अच्छा अच्छा कह रहे हो कि अपराध का सुराग नहीं मिला ..अबे तो पक्का सीबीआई होगी ...हां यार पिछला कै बरस से सीबीआई को इंफ़ुलैंजा हो गया जब देखो नाक कान बंद रहता है न बेचारा सब कुछ सूंघ पाता है और न देख पाता है और ऊ कौन केस था ..हां आरुषि मर्डर केस ..उस केस में तो कहना चाहिए कि ..दुई जनम के बाद भी पुलिस खाली हाथ रही

________________________________________________________________________________________________________


खबर :- पुलिस ने आसाराम बापू की गाडी से लाल बत्ती हटवाई

नज़र :- गलत किया एकदम ..ई काम का हक पुलिस को एकदमें नहीं होना चाहिए था ..अरे पुलिस हैं तो उनको लठियाईये ..उनके गाडी को काहे कुछ कहा गया ..ओईसे भी जब से साला नेतवा सब लाल बत्ती लगाने लगा है उससे जादे इज्जत तो रेड लाईट एरिया का रह गया है ...मारो साला लाल बत्ती का भी कोई इज्जत है का ? तो पुलिस ने अब हटवा ही दिया है तो बापू अब का करेंगे ?बताओ यार एक ऊ बापू थे एतना सा लंगोटी पहने के आजादी का लडाई लड लिए ..और एक ई बापू हैं इनको रेड लाईट भी चाहिए ..हे राम अब किसकी आस करें ...

________________________________________________________________________________________________________
खबर :- पच्चीस वर्षों तक ईंधन देगा फ़्रांस

नज़र :- अच्छा ठीक है तो लें लें न फ़िर सीएनजी वाला कार ..नहीं सुनो फ़्रांस वैसे देस कैसा है .....मतलब कल को हम कार खरीद लें और कहीं लॉंग रूट ड्राईव का योजना बनाएं और जाने से पहले ही कह दे कि न हम न देंगे अपने गोबर गैस पर जाईये लॉंग ड्राईव पे ..तो हो न गया बंटाधार । नहीं न नहीं करेगा ..अच्छा क्या क्या देगा ईंधन में ..नहीं बता दीजीए न यार ...देखिए हो फ़्रांस जी यार जादे घासलेट देना ..हम जानते हैं कि दिल्ली मूबई से बाहर रात को भारत इसी घासलेट के सहारे सोता जगता है अब भी

________________________________________________________________________________________________________
खबर :- प्लास्टिक पाऊच में नहीं बिकेगा गुटखा

नज़र :- बाह बाह का बात है का बात है ...अब तो खा लू तिरंगा गोरिया हो फ़ाड के ..जा झाड के टाईप का गाना गाएगा भाई चिब्बौका लोग ।अच्छा अच्छा तो सरकार जरूरे ई सोच रही होगी कि , एक ठो मोटा गैस पाईप लाईन की तरह गुटखा लाईन भी बिछा डालते हैं ..सब मुंह में डायरेक्ट घुसेड के चिबाएगा तो प्रोफ़िट जादे होगा । ओहोहो नहीं रे सरकार प्लास्टिक को रोकने के लिए अईसा सोची है . तो हमारे हिसाब से अईसा काहे नहीं कर देती है कि ..बोतलवा में गुटखा बेचे और पाऊच में शराब ..गज्जब्ब का आइडिया आया है सरकार को ।

________________________________________________________________________________________________________
खबर :- नहीं सुधर रही महिला अस्पताल की हालत

नज़र :- आयं ..अरिस्स ..ई का रे ..बताओ अस्पताल भी पुरूष और महिला होता है रे ..हम तो अस्पताल को साला न्यूट्रल जेंडर समझ रहे थे ..चलो मान लिया तो । अब ई बताने वाला बात है रे ...जब महिला सब का हालत नहीं सुधर रहा है ..और ऊ भी तब जब ..प्रतिभा , सोनिया शीला ..जाने केतना केतना वुमैन ..पावर वुमैन सब है सत्ता में ...महिलाओं पर अत्याचार करने वालों को काहे नहीं धर धर के सूत देता है लोग पता नहीं । सुनिए हो .लेडिज़ अस्पताल जी आपका हालत जैसा है ..फ़िलहाल तो उसी पर गुजारा करिए ..बकिया बाद में देखते हैं

________________________________________________________________________________________________________
खबर :- गरीब बच्चों के लिए बाल फ़िल्म महोत्सव

नज़र :- छी छी छी ..अबे तनिक तो सरम रखो यार देह में ..बच्चे भी कभी गरीब होते हैं ..अबे बच्चे तो बच्चे होते हैं ..न गरीब ,न अमीर , न किसी धर्म के जाति के ..और साले जौन देस में बच्चे गरीब होते हैं न ..ऊ देस दलिद्दर का दलिद्दर ही रहेगा । और एक बात बताओ बे ..अगर बच्चा गरीब है तो साले उसके खाने का ओढने पहिनने का इंतजाम करो न यार ..सलीमा उलीमा तो देखिए लेगा ..ओईसे भी .सीला के जबानी को देखने के लिए पहले बच्चा सब बराबर जबान तो हो जाए ..है कि नहीं ..

मंगलवार, 30 नवंबर 2010

संसद चलने के आसार नहीं ...हमारी बला से..वैसे भी उसने चल के कौन सा देश चला लेना है ...झा जी वक्रदृष्टि टाईम्स .




खबर :- सरल हो टैक्स कानून की भाषा

नज़र :- लो कल्लो बात ..सब कुछ आसान और सरल चाहिए आपको आयं ...अमां एक बात सुनो पहिले यार ...ये अपना जो कानून है ..हां वहीं ..जिसके आंखों पर पट्टी बंधी है ...हां हां उसकी ही भाषा जब सरल नहीं है तो फ़िर टैक्स की भाषा क्या सरल होगी भाई । और यार भाषा सरल से मतलब ..अबे जितना कमाया है उसमें से सरकार को ..हफ़्ता ,महीना साल जो भी उसका बनता है ..अरे चुंगी हुंडी जो भी समझ के दो यार ..अब सरल भाषा में ....रुपैय्या को ...बटाटा वडा तो करेंगे नहीं ..तो फ़िर छोडो सरल उरल जल्दी जलदी टैक्स भरिए ..काहे से ..अभी कै ठो मंत्री सब एक दम निल चल रहा है जी ....तैयार तो है हाथ मारने के लिए ..मगर पैसवा हो त न ..भरिए भरिए

____________________________________________________
खबर -सचिन सहवाग पर बरसेंगें करोडों रुपए

नज़र :- हां तो हमको ई बताओ खाली कि ..हम लोग के करना का ई खबर से ...माने टोटल करें का ..कि ..पहिले ही जो करोडों बरस रहे हैं ..उमें ई बारिश को भी जोड लें । अरे कि ..ई खबर तुम लोग राष्ट्रमंडल खेलों में जीतने वाले खिलाडी लोग के लिए छापा है रे ..। अरे भाई हम लोग को पता है यार कि करोडों का बारिस ,.,,...खाली क्रिकेट में ही होता है ...तभिए तो ..ललित बाबू ..उसके ऊपर एतना मालदार लंबा चौडा डैम बना कर सबको डैम फ़ूल बना दिए न हो

___________________________________________________________


खबर :- अब जागी एमसीडी

नज़र :- अरिस्स ..तो जाग ही गई ..हमें तो लगा था कि ..कुंभकर्ण के बाद एमसीडी ही वो कलयुगीन एमसीडी है जो अधिकांश समय सोती रहती है ...धुर महाराज एक आध बिल्डिंग के गिरने से ..एमसीडी जैसे राक्षस का नींद टूटना कोई आम बात नहीं है ...अच्छा तो जागने के बाद का कही है एमसीडी ..। कह रही थी कि , एतना दिन से बडा वसूली का कौनो चानस मिलबे नहीं कर रहा है ...सीलिंग के बाद तो एकदमे मंदी का दौर आ गया है जैसे इ धंधे में ...इसलिए फ़ौरन ही कुर्सी टेबल मार्केट को ढहा दिया लप्प से ..अब बांकी लोग अपने दे के जाएगा ...अब नींद से जागा है तो भूख तो लगले होगा न जी .....नास्ता उस्ता तो करबे करेगा न ...देखिए केतना को खा जाता है

__________________________________________________________
खबर :- गुम फ़ाइलों की जांच अब क्राइम ब्रांच करेगा .....

नज़र :- ओह तो बात क्राईम ब्रांच तक पहुंच गई ..बहुत गंभीर मामला है ई तो ..हां हां ठीक किया है एकदम ..अब तो खाली क्राईम ब्रांच पर ही भरोसा किया जा सकता है ..अरे यार ऊ लोग ...भारत का न न है ..साईत रे ..हम ओतना सियोर नहीं है ओईसे ...मुदा जब सरकार एतना कान्फ़िडेंस दिखा रहा है तो कुछ तो होगा न यार बात अलग ...हो सकता है कि नेपाल उपाल से फ़ोर्स मंगवाया हो लोग ..। मगर रे ..तिवारी ...एक प्रॉब्लम है ई मे ..एक्चुअली ऊ लोग को अपना फ़ाईल ही नहीं मिल पा रहा है कै दिन से ..बेचारा सब कह रहा था कि पहिले अपना फ़ाईल सब ढूंढेंगे ..तब ऊ बकिया सब भी ढूंढ लेंगे ..अरे चुटकी का काम है भाई ...

___________________________________________________________
खबर :- देश में न्यायपालिका की वजह से ही न्याय जीवित : वीरप्पी मोइली

नज़र :- त ..एकदम ठीक कहे हैं सर ...वीरप्पन ..ओह ओह ...वीरप्पा मोइली सर ..न त नेतवन सब का कारिस्तानी से तो कब्बे से डूब के मर गया रहता जी ..अब तकले तो न्यायपालिका का लहास भी ..तैरते हुए उपर आ गया होता ...तब । लेकिन जान रहे हैं ..आजकल तो सुने हैं कि न्यायपालिका में भी कुछ तो भी चल रहा है जी ..सुने हैं कि डेली एनिसथिसिया का एक ठो इंजेक्शन भोंक रहे हैं ..माननीय लोग ...खुदे ..बताईये ..खैर जाए दीजीए ओईसे बहुत बार आम पब्लिक को संदेह हो जाता है महाराज की ..अईसा खाली मोइली जी ही सोचते होंगे ..अरे न्यायपालिका की वजह वाला बात नहीं जी ...न्याय जीवित है ..ई वाला

________________________________________________________________________________________________________
खबर :- विश्व कप से पहले वापसी करूंगा : इरफ़ान पठान

नज़र :- ऐ टाईम से कर लेना इरफ़ान भाई ...काहे से कि यार जरूरी नहीं कि आदमी रिवर्स गियर में भी ओतना तेज़ ही गाडी चला पाए ....वापसी कहे न इसलिए हम सजेस्ट किए आपको ..विश्व कप से पहले जेतना मैच ऊच हो रहा है उसमें आपको तो न न देख पाएंगे ..ई बात तो लगभग श्योरे है न जी ...क्या..का कह रहे हैं मर्दे ...आप ई बतवा टेलिविजन एड के लिए बोले हैं ..अरिस्स साला ..गजब ई तो हम सोचबे नहीं किए थे ..तो माने कि टेलिविजन एड में आप वापसी करोगे ....जी हमारा बेस्ट ऑफ़ लक है जी ..महाराज खेलने के लिए तो कैन जना हईये है ..एड के लिए सलेक्टेड च्वाइस है जी हमारा भी

________________________________________________________________________________________________________


खबर :- कैटरीना का अब तक का सबसे जोशीला गाना है शीला

नज़र :- अरे का कह रही हैं आप ...ई गनवा ऊ ..hevard 5000 ...पीकर की हैं का ...?? तब ? अरे नहीं नहीं ..जरा जरा किस मी किस मी किस मी ..जरा जरा ..वाला गनवा में भी हमको जरा सा जोश नहीं दिखा था ..एकदमे बहुत जोस था ..बहुते था ...देखने वाले में सीधा भर रहा था । तो शीला सबसे जोशीला गाना है ..अरे नहीं पूरा बात लिखिए जी ...समाचार में ...कहिए कि ......शीला नहीं ....सीला का जबानी ....अरे तब्बे न ..लीजीए तो ईमें कौन बहादुरी है जी ..ई नाम का एक ठो पोस्टर ..हमको याद है कि ..जमाना पहिले ...वीर रस से ओतप्रोत ..सिनेमा का एक ठो अईसा ही पोस्टर ....एक टाईम में हरेक ..सहर का एक ठो खास दीवार ..(.बहुत महकता रहता था जी ऊ दीवार ) के ऊपर जरूरे चिपका रहता था ..आज कैटरीना ने सिने जगत का ऊ गोल्डेन डेज़ को एक ट्रिब्यूट दिया है जी

________________________________________________________________________________________________________
खबर :-खर्राटे भरने से जान को खतरा

नज़र :- ले बिल्लैय्या ....अईसन घमसान खबर सुनाए हो यार ..खर्राटा भरने से ..अबे ई कोई CNG है कि ....भरने से ..अरे उ तो ससुरा भरा ही रहता है ..जो रात्रि कालीन सेवा में ..बिना साईलेंसर के निकलता ही रहता है ..हां ई हो सकता है कि , कि जादे खर्राटा भरने से किसी दिन आपकी मेहरारू ..आपको पलंग से खींच कर सर के बल इस तरह से गिरा दे कि पुलिस को वो ...ब्रैन हैमरेज का केस लगे ..अरे कमाल है ...छोडिए छोडिए गया वो जमाना जब मेहरारू इस्मार्ट नहीं होती थी ...अब इत्ता काम सीरीयल देख कर कौन न समझ लेगा जी .या किसी दिन आप अपने अंदर भरे हुए खर्राटों को बाहर निकालते निकालते ...खुद ही निकल लें ...ओह इतनी ट्रैजिक खबर

________________________________________________________________________________________________________
खबर :- संसद चलने के आसार नहीं

नज़र :- हा हा हा अच्छा अच्छा ..अब मौसम विभाग ये सब भी बताने लगा ..। अबे छोडो यार , ..जिस तरह से बारिश और सूखे के आसार मौसम विभाग के पल्ले नहीं पडता ठीक उसी तरह से हमारे पल्ले भी एक ही बात पडती ....."उस दिन यदि , आतंकियों कामचोरी न की होती...तो कम से कम संसद भवन का बनना कुछ तो सार्थक होता .....सोचिए कि एक साथ कितना गंद निकल गया होता देश का " ...तो खैर जब ये ऊ लोग साले कर ही नहीं पाए ठीक से ..फ़िर का फ़ैदा चले न चले ..हमारी बला से..वैसे भी उसने चल के कौन सा देश चला लेना है ....मारिए जी छोडिए

________________________________________________________________________________________________________
खबर :- दिल्ली के दो मंत्रियों के कार्यालयों में ही बापू की तस्वीर

नज़र :- हां तो ..अबे कहना का चाह रहे हो बे ...ई कि देखो अभियो तकले दु ठो मंत्री का चेंबर में गांधी जी टंगल हैं ...माने ओतना दिन से उसमें चुना पुताई आदि नहीं हुआ है ...अरे पगला है क्या जी ...चूना पोताई के बाद थोडी को लगवाया है गांधी जी का फ़ोटो ..आ कि ई कहना चाह रहे हो कि ..ल्यो और मनाओ ...कांग्रेस का हाथ आम आदमी के साथ ....और जब हाथे कांग्रेस के साथ चला गया तो ..फ़िर बापू के साथ कौन रहेगा ..अरे ...कांग्रेस मतलब ..न बूझे जी ..सरनेमवा गांधी जी ..और फ़िजिकल प्रेजेंस ..नेहरू फ़ैमिली का ...हमारे हिसाब्से दुनु मंत्री की चैम्बर सील कर देना चाहिए

________________________________________________________________________________________________________
खबर :- अब बाघों को बचाएंगी प्रीति

नज़र :- अबे बचे नहीं क्या अब तक ...यार १४११ के हल्ले के बाद तो हमने ध्यान ही नहीं दिया इस बात पर ..सच कहें तो हमें तो लगता है कि , खुद बाघों ने भी ध्यान देना छोड दिया था ....सोचा होगा कि अब जब सरकार इत्ते लोगों को सोचवा रही है .....तो फ़िर बचेंगे कैसे नहीं ..। मगर अब जबकि प्रीति जिंटा ने भी उन्हें बचाने के लिए कमर कस ली है तो फ़िर बाघों का थोडा सा ..blushed and embarassed टाईप का फ़ील होना तो natural हुआ न जी । मगर हमारा कहना इतना है कि ..पहले प्रीति खुद को बचा लें ....फ़िर उन्हें बाघों की तरफ़ ध्यान देना चाहिए

संसद चलने के आसार नहीं ...हमारी बला से..वैसे भी उसने चल के कौन सा देश चला लेना है ...झा जी वक्रदृष्टि टाईम्स .




खबर :- सरल हो टैक्स कानून की भाषा

नज़र :- लो कल्लो बात ..सब कुछ आसान और सरल चाहिए आपको आयं ...अमां एक बात सुनो पहिले यार ...ये अपना जो कानून है ..हां वहीं ..जिसके आंखों पर पट्टी बंधी है ...हां हां उसकी ही भाषा जब सरल नहीं है तो फ़िर टैक्स की भाषा क्या सरल होगी भाई । और यार भाषा सरल से मतलब ..अबे जितना कमाया है उसमें से सरकार को ..हफ़्ता ,महीना साल जो भी उसका बनता है ..अरे चुंगी हुंडी जो भी समझ के दो यार ..अब सरल भाषा में ....रुपैय्या को ...बटाटा वडा तो करेंगे नहीं ..तो फ़िर छोडो सरल उरल जल्दी जलदी टैक्स भरिए ..काहे से ..अभी कै ठो मंत्री सब एक दम निल चल रहा है जी ....तैयार तो है हाथ मारने के लिए ..मगर पैसवा हो त न ..भरिए भरिए

____________________________________________________
खबर -सचिन सहवाग पर बरसेंगें करोडों रुपए

नज़र :- हां तो हमको ई बताओ खाली कि ..हम लोग के करना का ई खबर से ...माने टोटल करें का ..कि ..पहिले ही जो करोडों बरस रहे हैं ..उमें ई बारिश को भी जोड लें । अरे कि ..ई खबर तुम लोग राष्ट्रमंडल खेलों में जीतने वाले खिलाडी लोग के लिए छापा है रे ..। अरे भाई हम लोग को पता है यार कि करोडों का बारिस ,.,,...खाली क्रिकेट में ही होता है ...तभिए तो ..ललित बाबू ..उसके ऊपर एतना मालदार लंबा चौडा डैम बना कर सबको डैम फ़ूल बना दिए न हो

___________________________________________________________


खबर :- अब जागी एमसीडी

नज़र :- अरिस्स ..तो जाग ही गई ..हमें तो लगा था कि ..कुंभकर्ण के बाद एमसीडी ही वो कलयुगीन एमसीडी है जो अधिकांश समय सोती रहती है ...धुर महाराज एक आध बिल्डिंग के गिरने से ..एमसीडी जैसे राक्षस का नींद टूटना कोई आम बात नहीं है ...अच्छा तो जागने के बाद का कही है एमसीडी ..। कह रही थी कि , एतना दिन से बडा वसूली का कौनो चानस मिलबे नहीं कर रहा है ...सीलिंग के बाद तो एकदमे मंदी का दौर आ गया है जैसे इ धंधे में ...इसलिए फ़ौरन ही कुर्सी टेबल मार्केट को ढहा दिया लप्प से ..अब बांकी लोग अपने दे के जाएगा ...अब नींद से जागा है तो भूख तो लगले होगा न जी .....नास्ता उस्ता तो करबे करेगा न ...देखिए केतना को खा जाता है

__________________________________________________________
खबर :- गुम फ़ाइलों की जांच अब क्राइम ब्रांच करेगा .....

नज़र :- ओह तो बात क्राईम ब्रांच तक पहुंच गई ..बहुत गंभीर मामला है ई तो ..हां हां ठीक किया है एकदम ..अब तो खाली क्राईम ब्रांच पर ही भरोसा किया जा सकता है ..अरे यार ऊ लोग ...भारत का न न है ..साईत रे ..हम ओतना सियोर नहीं है ओईसे ...मुदा जब सरकार एतना कान्फ़िडेंस दिखा रहा है तो कुछ तो होगा न यार बात अलग ...हो सकता है कि नेपाल उपाल से फ़ोर्स मंगवाया हो लोग ..। मगर रे ..तिवारी ...एक प्रॉब्लम है ई मे ..एक्चुअली ऊ लोग को अपना फ़ाईल ही नहीं मिल पा रहा है कै दिन से ..बेचारा सब कह रहा था कि पहिले अपना फ़ाईल सब ढूंढेंगे ..तब ऊ बकिया सब भी ढूंढ लेंगे ..अरे चुटकी का काम है भाई ...

___________________________________________________________
खबर :- देश में न्यायपालिका की वजह से ही न्याय जीवित : वीरप्पी मोइली

नज़र :- त ..एकदम ठीक कहे हैं सर ...वीरप्पन ..ओह ओह ...वीरप्पा मोइली सर ..न त नेतवन सब का कारिस्तानी से तो कब्बे से डूब के मर गया रहता जी ..अब तकले तो न्यायपालिका का लहास भी ..तैरते हुए उपर आ गया होता ...तब । लेकिन जान रहे हैं ..आजकल तो सुने हैं कि न्यायपालिका में भी कुछ तो भी चल रहा है जी ..सुने हैं कि डेली एनिसथिसिया का एक ठो इंजेक्शन भोंक रहे हैं ..माननीय लोग ...खुदे ..बताईये ..खैर जाए दीजीए ओईसे बहुत बार आम पब्लिक को संदेह हो जाता है महाराज की ..अईसा खाली मोइली जी ही सोचते होंगे ..अरे न्यायपालिका की वजह वाला बात नहीं जी ...न्याय जीवित है ..ई वाला

___________________________________________________________
खबर :- विश्व कप से पहले वापसी करूंगा : इरफ़ान पठान

नज़र :- ऐ टाईम से कर लेना इरफ़ान भाई ...काहे से कि यार जरूरी नहीं कि आदमी रिवर्स गियर में भी ओतना तेज़ ही गाडी चला पाए ....वापसी कहे न इसलिए हम सजेस्ट किए आपको ..विश्व कप से पहले जेतना मैच ऊच हो रहा है उसमें आपको तो न न देख पाएंगे ..ई बात तो लगभग श्योरे है न जी ...क्या..का कह रहे हैं मर्दे ...आप ई बतवा टेलिविजन एड के लिए बोले हैं ..अरिस्स साला ..गजब ई तो हम सोचबे नहीं किए थे ..तो माने कि टेलिविजन एड में आप वापसी करोगे ....जी हमारा बेस्ट ऑफ़ लक है जी ..महाराज खेलने के लिए तो कैन जना हईये है ..एड के लिए सलेक्टेड च्वाइस है जी हमारा भी

______________________________________________________________


खबर :- कैटरीना का अब तक का सबसे जोशीला गाना है शीला

नज़र :- अरे का कह रही हैं आप ...ई गनवा ऊ ..hevard 5000 ...पीकर की हैं का ...?? तब ? अरे नहीं नहीं ..जरा जरा किस मी किस मी किस मी ..जरा जरा ..वाला गनवा में भी हमको जरा सा जोश नहीं दिखा था ..एकदमे बहुत जोस था ..बहुते था ...देखने वाले में सीधा भर रहा था । तो शीला सबसे जोशीला गाना है ..अरे नहीं पूरा बात लिखिए जी ...समाचार में ...कहिए कि ......शीला नहीं ....सीला का जबानी ....अरे तब्बे न ..लीजीए तो ईमें कौन बहादुरी है जी ..ई नाम का एक ठो पोस्टर ..हमको याद है कि ..जमाना पहिले ...वीर रस से ओतप्रोत ..सिनेमा का एक ठो अईसा ही पोस्टर ....एक टाईम में हरेक ..सहर का एक ठो खास दीवार ..(.बहुत महकता रहता था जी ऊ दीवार ) के ऊपर जरूरे चिपका रहता था ..आज कैटरीना ने सिने जगत का ऊ गोल्डेन डेज़ को एक ट्रिब्यूट दिया है जी

____________________________________________________________
खबर :-खर्राटे भरने से जान को खतरा

नज़र :- ले बिल्लैय्या ....अईसन घमसान खबर सुनाए हो यार ..खर्राटा भरने से ..अबे ई कोई CNG है कि ....भरने से ..अरे उ तो ससुरा भरा ही रहता है ..जो रात्रि कालीन सेवा में ..बिना साईलेंसर के निकलता ही रहता है ..हां ई हो सकता है कि , कि जादे खर्राटा भरने से किसी दिन आपकी मेहरारू ..आपको पलंग से खींच कर सर के बल इस तरह से गिरा दे कि पुलिस को वो ...ब्रैन हैमरेज का केस लगे ..अरे कमाल है ...छोडिए छोडिए गया वो जमाना जब मेहरारू इस्मार्ट नहीं होती थी ...अब इत्ता काम सीरीयल देख कर कौन न समझ लेगा जी .या किसी दिन आप अपने अंदर भरे हुए खर्राटों को बाहर निकालते निकालते ...खुद ही निकल लें ...ओह इतनी ट्रैजिक खबर

___________________________________________________________
खबर :- संसद चलने के आसार नहीं

नज़र :- हा हा हा अच्छा अच्छा ..अब मौसम विभाग ये सब भी बताने लगा ..। अबे छोडो यार , ..जिस तरह से बारिश और सूखे के आसार मौसम विभाग के पल्ले नहीं पडता ठीक उसी तरह से हमारे पल्ले भी एक ही बात पडती ....."उस दिन यदि , आतंकियों कामचोरी न की होती...तो कम से कम संसद भवन का बनना कुछ तो सार्थक होता .....सोचिए कि एक साथ कितना गंद निकल गया होता देश का " ...तो खैर जब ये ऊ लोग साले कर ही नहीं पाए ठीक से ..फ़िर का फ़ैदा चले न चले ..हमारी बला से..वैसे भी उसने चल के कौन सा देश चला लेना है ....मारिए जी छोडिए

____________________________________________________________
खबर :- दिल्ली के दो मंत्रियों के कार्यालयों में ही बापू की तस्वीर

नज़र :- हां तो ..अबे कहना का चाह रहे हो बे ...ई कि देखो अभियो तकले दु ठो मंत्री का चेंबर में गांधी जी टंगल हैं ...माने ओतना दिन से उसमें चुना पुताई आदि नहीं हुआ है ...अरे पगला है क्या जी ...चूना पोताई के बाद थोडी को लगवाया है गांधी जी का फ़ोटो ..आ कि ई कहना चाह रहे हो कि ..ल्यो और मनाओ ...कांग्रेस का हाथ आम आदमी के साथ ....और जब हाथे कांग्रेस के साथ चला गया तो ..फ़िर बापू के साथ कौन रहेगा ..अरे ...कांग्रेस मतलब ..न बूझे जी ..सरनेमवा गांधी जी ..और फ़िजिकल प्रेजेंस ..नेहरू फ़ैमिली का ...हमारे हिसाब्से दुनु मंत्री की चैम्बर सील कर देना चाहिए

___________________________________________________________
खबर :- अब बाघों को बचाएंगी प्रीति

नज़र :- अबे बचे नहीं क्या अब तक ...यार १४११ के हल्ले के बाद तो हमने ध्यान ही नहीं दिया इस बात पर ..सच कहें तो हमें तो लगता है कि , खुद बाघों ने भी ध्यान देना छोड दिया था ....सोचा होगा कि अब जब सरकार इत्ते लोगों को सोचवा रही है .....तो फ़िर बचेंगे कैसे नहीं ..। मगर अब जबकि प्रीति जिंटा ने भी उन्हें बचाने के लिए कमर कस ली है तो फ़िर बाघों का थोडा सा ..blushed and embarassed टाईप का फ़ील होना तो natural हुआ न जी । मगर हमारा कहना इतना है कि ..पहले प्रीति खुद को बचा लें ....फ़िर उन्हें बाघों की तरफ़ ध्यान देना चाहिए

सोमवार, 8 नवंबर 2010

अच्छा ओबामा इंग्लिश में .....हायं ( अरे अमिताभ वाला ) ..बोलेगा तो क्या कहेगा जी .......झा जी वक्रदृष्टि टाइम्स ......




खबर :-२६/११ की चर्चा में पाक का नाम नदारद

नज़र -हां तो ई कहो न कि ,ओबामा और सलमान भाई ...अरे सल्लू मियां यार ..दबंग वाले ..ओही जिन्होंने मुन्नी को बेदनाम किया है हाले में ,अरे ऊ भी तो कहे थे कि मुंबई में जौन ऊ पकिस्तनिया सब .,...डे एंड नाईट मैच खेला था ...उसमे पाकिस्तानी खिलाडी सब नहीं न था ..आज ओबमवा भी बोले ..। का ई बात नही हैं ...एक्चुअली ऊ के यात्रा में पाक का नाम नहीं लिया जाएगा अईसा एजेंडा से आए हैं न मामा ..। ओह तो ई बोलो न कि जैसे पाकिस्तान जाते हैं तो भारत का नाम नहीं लेते हैं और भारत आते हैं तो पाकिस्तान का नय लेते हैं ...उनको पता है कि साला का जरूरत है ..हमरा नाम तो ई दुनु लईबे करता रहता है ...

_____________________________________________________________________
खबर :-ओबामा ने जुटाए ५४,००० रोजगार ..

नज़र -अरिस्स साला ...तो एंप्ल्यामेंट एक्सचेंज खोले आए हैं रे ..ओहो ..हां हां हम सुने तो थे कि भारत का एंप्लायमेंट एक्सचेंज़ में तो अब लोग सायकल स्टैंड बना के यूज कर रहा है उसका ...और अमरीका से कोई आ रहा इसका मेकओवर टर्नओवर करने के लिए .....ले बिल्लैया तब थोडी पता था कि ..ओबमवे आ जाएंगे ..इतना छोटा मोटा काम के लिए ..यार सच्चे में ई अमरीका बला सब , केतना महान होता है यार ! का कहते हैं .....अरे नहीं ..अच्छा ऊ अपने देस का बच्चा सब के लिए रोजगार ढूंढने के लिए निकले हैं , भारत पाकिस्तान , बांग्लादेस ..और बिहार में विकास का बात सुन के ..मुजफ़्फ़रपुर और वैशाली तकले निकलने का योजना बना कर आए हैं

_____________________________________________________________________

खबर :-बिना ब्रेक ४२ किलोमीटर तक दौडी मालगाडी

नज़र -अबे तो दौडने के लिए वैसे भी साले ब्रेक का नहीं , टायर का जरूरत होता है ..आउर ई साला टरेन को तो हवो का जरूरत नहीं रहता है टायर में ..ई कहो न , खराब ब्रेक में बयालीस किलोमीटर तक दौड गई माल गाडी ...अबे माल कौन सा था पहिले तो ये बताओ ...हो सकता है कि माल ही बडा जोरदार हो तो इसमें , ब्रेक का का गलती था । फ़िर यार एक बात बताओ तो ..ई सबके बावजूद भी ई में खबर क्या था बे ...एक बात बताओ ..ई जेतना टरेन ....सब को उलटाते हो , आपस में भिडा देते हो ..ऊ सब में तो ब्रेक बराबर होता है न जी ....तो फ़िर का मतल्ब ई बात का .,..अरे टरेन अपने ठीक है न ...मतलब कि माल और गाडी दुनु मस्त है न ..तो तुम भी मस्त रहो न ,,....यार ..भारतीय रेल जिंदाबाद जिंदाबाद ...सवारी सारे मुर्दाबाद मुर्दाबाद ...

_____________________________________________________________________
खबर :-वादी में बेअसर रहा गिलानी का फ़रमान

नज़र -हम तो कह रहे थे कि उनको फ़रमान जारी ही नहीं करना चाहिए था ...साला एक ठो ब्लॉग पोस्ट लिख लो जादे से जादे ..न हो तो ग्रुप एसएमएस कर दो ...रे भाई मान लो असर न होता है तो ...बेइज्जती से बच ही गए न मियां जी ....अब साला वादी का का है ..सब कुछे बेअसर है ...और यही सबसे बडी कसर है । असल में ई गिलानी ....लोग ही साला गिलसरीन बन के पूरा वादी कोर रुलाए हुए है महाराज ...न तो धरती के स्वर्ग में...चलो छोडो यार ..

_____________________________________________________________________
खबर :-दिल्ली में २०० से ज्यादा जगहों पर लगी आग

नज़र -गज्जब ...अबे इत्ता जोरदार मनाए क्या दीवाली ......। अबे इस बार तो साला धरती आकाश एक कर दिया रे ..पूरा डबल सेंचुरी मार दिया रे ..। इसकी का नाम तो राजधानी का जलवा है न ..बताओ साला खुशी में एतना न बौरा गया कि एक दो नहीं पूरे ..दु सौ जगह पर आग लगा दिया ..कमाले है न रे । और दारू पियो ...फ़ूंको लाखों करोडों का पटाखा ...जानी ..ये आग है ..ये दोस्त दुश्मन नहीं देखती ..दोनों को बराबर जलाती है जानी .....हैप्पी दीवाली रे भाई

_____________________________________________________________________
खबर :-कोर्ट ने दिए प्रेमी जोडे को सुरक्षा देने का आदेश

नज़र -एकदम ठीक किया है कोर्ट , अरे भाई आखिर न्याया का बात है जी ....और आजकल न्याय में प्रायोरिटि परेम का ही है न जी ..अरे महाराज देख न रहे हैं ..कभी लिव इन रिलेशनशिप , त कभी गे ....साला सब कुछ प्रेममय हो गया है ..एतना प्रेममय कि हमको तो साला प्रेमचोपडामय लगने लगा है सब कुछो ..अरिस्स ...आपको भी ..

_____________________________________________________________________

खबर :-नमस्कार भारत से संसद में भाषण शुरू करेंगे ओबामा

नज़र -न न ....भारत में हैं तो नमस्कारे न कहेंगे , ओईसे भी अब संसद में नमस्कार शब्द ...बिदेस का लोग ही बोलता है .......अपने देस का देसी नेता सब तो ...कहता है हाय एवरीबॉडी ....कैसी है आप लोग कि बॉडी ...खून बचा है का ..अरे चूसने के ले महाराज । तो ओबामा कहेंगे .......नमस्कार , आदाब, सतश्रियाकाल ...आईये आप और हम खेलते हैं ........कौन बनेगा .....निचोडपति ..सब कुछ निचोड लेंगे हम आईये ...हायं ..अब यार इंग्लिश में ओबामा हायं को क्या कहेगा ई आपे ढूंढिए ....

_____________________________________________________________________
खबर :-भारत ने यूएन में फ़िर लोहा मनवाया

नज़र -अच्छा कब रे ...सुरक्षा परिषद वाला मैच जीत गए क्या बे ..एक तो यार तुम लोग जबसे तुम लोगों ने ..कौमन वेल्थ में जीत मारी है न ..एकदम सबको ठसकाते हुए तब से अब ई तो सब मानिए के चल रहा है कि आप लोग कुछो कर सकते हैं ...तो बन गए का मेंबर .....आयं का कहे ..ई बात नहीं था कौनो दूसरका समिति का बने हो ...ओह इसलिए कहे कि लोहा मनवाया । अबे कब तक ...आखिर ई कब तक ...तुम लोग साला लोहा लक्कड का कबाडी बना रहेगा बे ..रे महाराज ..नौन स्टिक तक न गए न सही .....साला स्टील में का हर्ज़ है बे ..अगली बार स्टील मनवाओ .....

_____________________________________________________________________
खबर :-पाक ने १३वीं बार सौंपे मुंबई हमले के दस्तावेज

नज़र -हा हा हा ....अच्छा ....तो इसका भी इंस्टॉल्मेंट करवा लिए हो ....कमाले है यार बताओ साला सब कुछ का इंस्टॉलमेंट में ही कराने का गजबे फ़ैसिलिटी मिल गया है यार तुम लोग को ,...साला पहिले ....किस्तों में आतंकी हमला ...पते नहीं है कि साला ईयरली है , हाफ़ इयरली है , कि का है ...मुदा है इंस्टॉलमेंट में साला विस्फ़ोट ;उस्फ़ोट होता ही रहता है .....इसके बाद ...फ़िर मुजरिम पकडिए ..किस्तों में , उस पर मुकदमा चलाओ किस्तों में ...सजा दो किस्तों में , ..फ़िर साला उसके लिए सबूत मांगो किस्तों में .....धमकाओ पकिस्तनिया को ..ऊ भी किस्तों में ..अबे हट हुर्रर्रर्रर्र..साले किस्ती राम ....जिल्ली इलाही अब तुमसे बात नहीं करेंगे जाओ बे ...

_____________________________________________________________________
खबर :-म्यांमार में हो रहे हैं २० साल के बाद चुनाव

नज़र -बताओ यार क्या देश है साला .....एतना मजेदार फ़ेस्टीवल साला बीस साल के बाद सेलिब्रेट कर रहा है .....रे भाई का आदमी है रे तुम लोग ...साला अईसन एकमात्र फ़ेस्टीवल है जिसको सो काल्ड ..डेवलप्ड और डेवलपिंग ..नेसनवा के अलावा ऊ देस सब भी मना लेता है साला जिसको खाने के लिए भी लडाई करना पडता है .....साला उहो सब साल दु साल पांच साल में ई फ़ेस्टीवल मनाइए ले रहा है अरे और छोडो नेपलवो,वाला सब ..एक प्रधानमंत्री को सालो भर नहीं चलाता है ....पता नहीं साला गारंटी कार्डे फ़ेल है ऊ लोग का ..और तुम लोग ...बीस साल के बाद मना रहे हो ..देखो कौनो मदद उदद चाहिए हो ..टिप उप चाहिए हो ..अरे किसी भी तरह का हेल्प चाहिएगा न तो हम लोग के याद करिएगा एक बार ....अरे मिल तो लें एक बार ....टाईप से

_____________________________________________________________________

खबर :- राजनीतिक छांव की तलाश में कलमाडी

नज़र :- आयं छांव की तलाश में .....मलबल रे ...ऊ भी का तो राजनीतिक छांव की तलाश में ...अबे तो अब तक का ...कौन से नीतिक थे महाराज ..हम तो उनको राजनीतिके लोग पार्टी समझते थे रे भाई ....अच्छा ऊ छांव की तलाश में हैं ...बताइए उनका पिछला दिन के करतब सब को देखते हुए ..उनको तो किसी बैंक के तलाश में रहना बनता था ....अरे गया जमाना जी ..जब लोग दन्न से कह देता था कि , आप तो स्विस बैंक में लप्प से जमा कर दीजीए , दूसरा तो दूसरा यदि तनि सहचेत न न रहे ..तो कुछ दिन के बाद तो आपहु को नहीं पता चलेगा कि ..पईसा केतना जमा करते थे ..ऊपर से सुने हैं कि आडवाणी जी जौन रथ लेकर गए थे न ..तो उहे रथवान का बेटा हाले में उ बैंक में किरानी लगा है , और सुनने में आया है कि अरे , सुनिए न , हां उहे कि ऊ सब पासबुकवा का फ़ोटो कापी आडवाणी जी को लीक करने का वायदा कर दिया है जी ...चलिए मारिए गोली हम लोग के करना है कलमडिया के छतरी ढूंढने से ..ढूंढने दीजीए हो

________________________________________________________________________________________________________
खबर :- बिहार में हुए विकास को देख विरोधी बौखलाए

नज़र :- हा हा हा साला ई दुनिया का आठवां अजूबा देखके कौन नहीं बौखलाएगा भाई ..बताओ यार ......बिहार में विकास का एकेठो मतलब होता समझा जाता था ..ऊ वेदप्रकाश शर्मा का था ...तेज़ तर्रार जासूस ...विकास ..अरे विजय का भतीजवा , ..सब पिजायल सबको याद आ गया होगा ..दस बीस रुपया में मिलने बाला ऊ अनोखा दुनिया .याद आ गया होगा ..तो विकास का मतलब बिहार में उहे होता था ..जब से साला ललटेन जराता रहा न लोग ...विकास का सब ठो जासूसी ..घोसड गया था ..ऊ तो बाद में नीतिश बाबू बोले ..रे हमरे तो नामे में नीति ...अटैच्ड है ..इसलिए नीति के अनुसार सबको चाहिए कि एक बार नीतिगत सरकार बनाईये । अब देखा कि विकास का मतलब तो लोग डेवलपमेंट समझने लगे तो ..बौखलाना तो उसी तरह बनता है जईसे , ..किटकैट का ब्रेक बनता है न ..


बुधवार, 3 नवंबर 2010

एको खबर को छोडे नहीं है ...सबका मूडी पकड के रगड दिए हैं ...झाजी वक्रदृष्टि टाइम्स ...





खबर :-सवाल पूछने पर बरस पडे ओबामा

नज़र -हां तो ऊ कभियो बरस सकते हैं कि साला कौनो इंडिया का बादल है कि जौन दिन प्रेडिक्शन करता है भारतीय मौसम विभाग ऊ दिन को छोड के कहियो बरस जाता है ,.....इसलिए ऊ बरस सकते हैं ..सवाल पूछने पर बरसे तो अच्छा ही है ..मुदा सवाल था का ..का कहे ..कौनो पूछ दिया कि ..का ई बात सच है कि ..चिंचपोकली में एक ठो देसी ठर्रा केंद्र ..ओबामा ओसामा के ज्वाइंट पार्टनरशिप में खुला हुआ है ..बताओ ई तो सवाल बरसने वाला था ही ...अरे जादे से जादे एतना हिम्मत किया जा सकता था कि ई पूछ लिया जाता कि ,सर आपको यदि कभी अंटे पे उडाना हो ..तो जुतवा कौन मॉडल का पसंद करेंगे ....

_____________________________________________________________________

खबर :-प्रयोगशाला में विकसित किया मानव लीवर

नज़र - लो एक तो साला ई प्रयोग का साला ...में हमेसा की कुछ न कुछ पकते ही रहता है ......लेकिन तुम लोग एतना मुसकिल से ई मानव लीवर तैयार किया होगा ...हम लोग फ़टाक से एक ठो मराठी को पकडे ..उनका अंदर एतना हिंदी ठूंसे कि ..थोडे दिन के बाद ऊ जॉनी लीवर हो कर सामने आए । अईसन कमाल का हिंदी कॉमेडियन ऊ बने कि कौनो कह नहीं सकता था कि ....इनका पर राज ठाकरे का तनिको ...रिएक्शन हुआ पाया गया है ....
_____________________________________________________________________
खबर :-हेडली की पत्नियों से पूछताछ कर सकते हैं भारतीय जांच अधिकारी

नज़र -हैं ....दीवाली में इस बार भारतीय जांच अधिकारियों को इत्ता गजब का बोनस .....पत्नि ...अरे नहीं रे ..ले बिल्लैय्या लिखा हुआ पत्नियों ...अबे का दर्जन के हिसाब से किया था रे पत्नी ..ऊ करता है तू लोग एक ठो गिनती ..कै ग्रोस ...कै ग्रोस ...तो माने कि जांच अधिकारी लोग यदि ..ज्वाइंट सेशन का पूछताछ भी करेंगे तो ..कौनो अधिकारी खाली नहीं बैठेगा ...सब ठो के पास अपना अपना एक ठो रहबे करेगा ....अरे माने सस्पेक्ट जी ....। आ जान रहे हैं हम तो सुने हैं कि ..ई अमरीकन पत्नी लोग को अकसरहें न जांच अधिकारी सब से परेम भी हो जाता है .....हा माने कुछ दिन बाद तिवारी जी ...उ सार हेडली के ..सौतन बनिए के वापस आएंगे

_____________________________________________________________________


खबर :-सीवर का ढक्कन खुलने से खतरा

नज़र - अबे किसको और कब बे .....सीवर के ढक्कन के खुलने से खतरा है बे ....इंडिया में ...का बकवास मार रहे हो बे ..माने कुछो कह दोगे तो पतिया लेंगे क्या ....अबे बुडबक समझे हो बे ....सीवर का ढक्कन ..तो देखिए होईबे इसलिए करता है कि ...जब तकले रहे तो सीवर के बाजू में पडा रहे ...और जब वहां से उठे न बाबू तो कोई चरस प्रेमी संत अपने चिल्लम के जुगाड के लिए किसी दिन इज्जत से अपने मईलका गमछा में टांगे लिए जाए ..और जाकर बेच दे उस ढक्कन को ..जिसने मुएं ने जाने कित्ते ही प्रिंसों के अरमान पर कुंडली मार के रखी है ....कोई खतरा नहीं है ...जी सबको आदत है ....अरे कहिए कि साला सीवर का आदत हो न हो ...मुदा खुला ढक्कन का आदत तो हईये है भाई ..

_____________________________________________________________________


खबर :-बंद हो राखी का इंसाफ़

नज़र -नहीं नहीं ई अत्याचार नहीं हो सकता ..काहे के लिए बंद होगा जी ..अरे महाराज इंसाफ़ तो बल्कि कह रहा है कि ..मेट्रो का चक्का लगाओ साले ई इंसाफ़ एक्स्प्रेस में ..टपा दो सब ठो स्पीड लिमिट ..एतना जोर का दबाओ एक्सीलेटर को ..तो फ़िर काहे बंद हो जी ..बल्कि राखी , भाईदूज , और जो भी टाईप का इंसाफ़ हो उ चलते रहना चाहिए । और फ़िर हमको पूरा सूचना है कि इ तब तकले नहीं बंद हो सकता ..जब तक अभिषेकवा और मिकवा का केस नहीं पहुंचेगा रखिया के कोर्ट में, अभिषेकवा कह रहा है कि , उसको काहे लिए लप्पड मारी जबकि चुम्मी तो सार उ मिका लिया था ...ई इंसाफ़ करो पहिले ..ई एपिसोड के आने के बाद अपने बंद हो जाएगा

_____________________________________________________________________


खबर :-दो दिन में साढे चार हजार से ज्यादा चालान

नज़र -तब कहे नहीं थे कि , हर विशेष अवसर पर दिल्ली पुलिस का तैयारी विशेष जोरदार होता है ....अरे महाराज जैसे जैसे दीवाली नजदीक आता न जाएगा ...ई डाटा में गजबे सुधार आता जाएगा ..बल्कि कहिए तो हरेक बार नयका रिकॉर्ड बना के छोडता है पुलिस । दिन रात चलान कटाई चल रहा है ..सुने तो हैं कि कंपीटीसन चल रहा है कि पंजाब में धान कटाई का एवरेजवा जादे है कि दिल्ली पुलिस के चलान कटाई का ,.....सुने हैं कि आंगनवा में घुस घुस के चलान काट रहा है कि , मोटर सायकिल है तो चलबे करोगे और चलोगे तो कानून तो तोडबे करोगे ..तो कटाएगा न चलान ...तो लाओ ..आ प्रेम से बोलो ..हैप्पी दीवाली

_____________________________________________________________________
खबर :-चालक सोया , ट्रक दुकान में घुसा

नज़र -हां तो का करता , एतना देर रात में किसी के घर में घुस जाता ...साला ड्राइवरवा का करेक्टर थोडी है उसका इसलिए दुकान में घुस गया । फ़िर ई कौन कहेगा बे कि कोई खराबे नीयत से दुकान में घुसा होगा ..हो सकता है कि अपने लिए अपने मन पसंद का स्पेयर पार्ट लेने का मन हो ससुरा का ..तो घुस गया हो । अच्छा फ़िर का हुआ ई नहीं बताए हो ..का कह रहे हैं ..अब खाली ट्रके है ...दुकान तो हईये नहीं है ....मार तोरी ई तो अलगे ट्रैजडी हो गया रे ..धत

_____________________________________________________________________
खबर :-शांति योजना पेश करेंगे आतंकी

नज़र -चलो तो का करेगा का बेचारा सब ...साला ई मंदी में केतना लोग अपना मिजाज के प्रतिकूल जाके ड्यूटी बजाया है तो ई लोग भी टाईमे पर काम बदल लिया है .....ओएसे भी साला अब कौन प्लेन हाईजेक करने का रिस्क ले ..साला पायलटवा सब हवाई जहाज को उडाने से पहिले ही टपका दे तो हो गया ..जेहाद ..बताइए ....तो केतना मिसयूजफ़ुल जॉब बन गया है ई आतंकी होना ..ई से तो बढियां है कि नेता वाला काम किया जाए ..। जान रहे हैं साला ई खबर से , नेतवन में खलबली है ..सोच रहा है कि ले बिल्लैय्या त अब हम लोग का करेंगे

_____________________________________________________________________

खबर :-हवाई अड्डे में छह घंटे गायब रही बिजली

नज़र -फ़िर का किए , माने कैसे उडाए जहाज ....ओह अच्छा ...दीवाली का मोमबतिया जला दिए एरोड्राम के दुनु बगल ...गज्जब रे ....बताओ दीवाली का केतना फ़ायदा हो गया आप लोग को न । अच्छा ई बिजली गई कहां रही ...माने एतना भारी टाईम के लिए ...........अरे छ: घंटा में दु ठो सलीमा निपटा सकते हैं आप महाराज का बात कर रहे हैं ....हां हां जानिए रहे थे ई तो साला बतवा यही निकलेगा ...जब्बे से ई मुन्नी हिट हो गई है न ..ई बिजली को करेजा में आग लगा हुआ है कि हमसे जादे बदनाम कोई आउर कईसे हो सकता है जी ..पूरा छ: घंटा बिता के आई है ,,,....अब देखते हैं कि , केतना बदनाम होती है ..

_____________________________________________________________________
खबर :-लूट के मामले में तीन दिन बाद भी पुलिस खाली हाथ

नज़र -का बात कर रहे हो ..दीवाली सर पे है और चलान बला डिपार्टमेंट अपना टार्गेट पूरा करने ही बाला है और अभी तकले तू लोग का सेयर नहीं फ़ायनल हुआ है डकैतबा सब से ..ई साला बाद में डिस्ट्रिब्यूसन एंड पेमेंट वाला स्कीमे में पेंच है शुरूए से ....पहिले से ही एडवांस ले लेना चाहिए था त ..आज ई चक्कर न न पडता । आज तो कर रहे होते न शॉपिंग ..अब सुनो साले गाली सब तरफ़ साहबो से और घरनियो से .....अरे मर्दे जल्दी लो न अपना हिस्सा जी

_____________________________________________________________________
खबर :-पाकिस्तान अमेरिका का पिछलग्गू नहीं : कुरैशी

नज़र -अरे अब कौन कहता है रे ई बात ..ई सब लोग साला एके बात धर के बैठ जाता है ..बताओ अब है तो है ..का कहे ..कुरैशी साहब कह रहे हैं कि नहीं है ..तो पक्का माना जाए कि नहीं है ,काहे से कि उनका डायरेक्ट बात ...ओसामा चचा से न था ..तो चचा को ऊ अपना अब्बू से कम नहीं मानते हैं ..चचा कहे कि जाओ कह दो कि एतना भिखमंग्गी के बादो कह दो पाकिस्तान अमेरिका का पिछलग्गू नहीं है ..एकदम्मे नहीं है ..जादे खोखरे न तो कह देना कि ...चेकोस्लोवाकिया का है ..बताओ का कल्लोगे तुम ...

_____________________________________________________________________


खबर :-BCCI गावस्कर से बोली, क्यों पैसा-पैसा करता है!

नज़र -ई ससुरी बीसीसीआई ..बोलती भी है ..माने इसको फ़ुर्सत रहता है .नोटे गिनने में साला पूरा समय निकल जाता होगा , बोली भी तो ,गावस्कर से बोली , अबे कुछ दिन बाद कपिल से बोलेगी ..फ़िर चेतन शर्मा से , फ़िर मोहिंदर अमरनाथ से ..अबे ई उलटी बानी काहे रे बे , अबे आजकल के लौंडन से कौन बोलेगा बे ..माने जो बोले पब्लिक बोले ..तू लोग चाहते तो हो खूबे बोलना ..मगर बोलोगे किससे गावस्कर से ...और क्या बोले हो काहे पैसा पैसा करता है । अबे तुम लोग भी तो ओही करता है बे ..आउर फ़िर रोहनवा भी न क्रिकेट में चला न विज्ञापनवे में ...छतरी चाकू , पेंसिल , चशमा कुछो बेच लेता न तो गावस्कर को एतना चिंता नहीं न रहता पैसा का

_____________________________________________________________________
खबर :-अयोध्या मसले के हल के बिल्कुल करीब पहुंच गई थी वाजपेयी सरकार: शंकराचार्य

नज़र -ओहो ई शंकराचार्य भी जो हैं न ...एकदमे लेटेस्ट बुलेटिन मारे हैं ..लेटेस्ट माने ..इससे लेट अब नहीं हो सकता था ई बोलने के लिए , अयोध्या मसले के हल के करीब पहुंच गई थी सरकार ..अच्छा अच्छा लेकिन यार , ई बात ठीक नहीं था कि खाली हल के करीब पहुंची ...पूरा खेत के करीब न पहुंचना चाहिए था ...ई वाजपेयी सरकार सबके करीबे पहुंच कर रुक गई रे ..ओह एकरा बाद तो बांकी बचा हुआ समय में मंजना को ही न पिजाते रही ,..बाद में बताने के लिए कि इंडिया को एतना घसे हैं कि देखिए साईनिंग इंडिया , लोग कहा भक काहे का साईनिंग ...सरकारे फ़्यूज हो गया ..लो करा लो आउर साईनिंग

_____________________________________________________________________
खबर :-भ्रष्टाचार को लेकर संसद हल्ला बोलेगा विपक्ष

नज़र -अच्छा अच्छा भ्रष्टाचार को लेकर ....माने उ आजकल विपक्ष के इहां रह रहा है का पेइंग गेस्ट बनके ...तब्बे न उसको लेके जाएगा हल्ला बोलने ....नहीं नहीं ई मतलब नहीं था उसका हम गलत निकाले ..ओह समझे तो ईका मतलब जरूर ही होगा कि ..सरकार जो भ्रष्टाचार कर रही है उका डिस्ट्रिब्यूसन को लेकर हल्ला बोला जाएगा ...एकदमे ई ठीक से दिमाग में ठपाक से घुस गया न ...हां हां बोलो बोलो ...साला आखिर विपक्ष में बैठने वाला नेता ....चुनाव सरकार का बाप के जेब के पईसा से थोडे न लडा था

_____________________________________________________________________


खबर :-अब विद्या करेंगी कॉमेडी

नज़र -करो भाई कुछ तो करो ..करबे करो .,....तभिए न पब्ल्कि को भी पता चलेगा कि तुम न सिर्फ़ गंभीर एक्टिंग , नंगपना , आउर तमाम चीज़ के साथ साथ कॉमेडी भी ओतने गंदा तरीके से बराबर कर सकती है । तो का .....न अब विद्या करेंगे कॉमेडी ....माने का का हुआ फ़िर ...का ऊ राजपाल यादव बन रही है ..आ कि जॉनी लीवर बनके रोल करेगी का ....। अरे ऊ में फ़िर आप अपना ग्लैमरवा को कईसे दिखाइएगा जी ...अब ई राजपाल और जॉनी भाई का ग्लैमर देख के केतना लोग सिसकारी मारेगा रे ...

_____________________________________________________________________


खबर :-जोश हार्टनेट के संग रोमांस करेगी बिपाशा

नज़र -आयं ......ई भी ..जॉनवे का कौनो अंग्रेजी नाम होगा ..स्साला ..छुपा के रखा होगा ..आ आज ई बिपसिया कह रही है कि रोमांस करेंगे ...बांकी उ करेगी एही ..न त बीडी जलाएगी न त ..जौन का चूलहा ...। का ई बात नहीं है ई कौनो अंग्रेजे हीरो है ..अरे साला तो इ सब भी सुरू हो गया ..जभिए मल्ल्किका हिस्स की न चीनीया सब के साथ ..तभिए से बिपासा कह रही थी कि देखना हम भी अपना मलटीनेशनल टैलेंट दिखाएंगे जल्दीए ..

बुधवार, 27 अक्तूबर 2010

कुछ कानूनों से कहा गया कि ..पटरी पर लेट कर आत्महत्या कर लो ..वैसे भी कौन जिंदा हो बे ! ......हा हा हा हा आज तो साला धोलिया उडा दिए हैं ..झाजी वक्रदृष्टि टाइम्स




खबर :-भ्रष्टाचार के विरुद्ध आवाज़ उठाएं : सतर्कता आयोग

नज़र -सच्ची सर ..एकदमे फ़ायनल कह दीजीए सर ...काहे से कि बाद में आप लोग कहते हैं कि ...का रे तुम पब्लिक लोग जईसे ही सच कहने के लिए कुछ कहते हैं तुम लोग सब गरियाने लगता है । सर ई तो बताईये कि केतना उठाना है आवाज को ..मतलब हम लोग तो गरीब गुरबा हैं न सर जादे से जादे बांस बल्ली में बांध के उठा सकते हैं ...आउर बहुत कुथ पाद के ....पतंगवा में बांध के उठा सकते हैं ....माने केतना उठाना है आवाज को कि आप लोग को दिखाई दे सके । अरे सर ! का है कि जादे बार इसलिए पूछ रहे हैं काहे कि आप लोग का आफ़िस दिल्लीए में है ..और ससुरा भ्रष्टाचार का सेंट्रल ऑफ़िसवा भी दिल्लीए में न है ...तो उका आवाज में का साइलेंसर लगा हुआ है जी

_____________________________________________________________________
खबर :-करवाचौथ को लेकर महिलाओं में उत्साह का माहौल

नज़र -हां त करवाचौथ को लेकर महिलाओं में उत्साह नहीं रहेगा तो का ...पुरूषों में रहेगा जी ..आयं चूडी , साडी , बिंदी , मेहंदी , झुमका , पायल , कंगना , और जाने कौन कौन औजार लेने के बाद लटकाने के बात उत्साह का माहौल अपने न बन जाता है जी ...और ई उत्साह दूना तब हो जाता है जब ..उका पेमेंट सब ठो ..चांद जी कर रहे होवें ..। अबे काहे का कडुवा चौथ ...सब ठो महिलाओं के लिए तो ई एकदम मीठा मीठा चौथ है जी .....। रहा सहा कसर पूरा कर दिए अमिताभ बच्चन जी ..जब से बागबां में इन्होंने खुल्लम खुल्ला व्रत रख लिया ..सब ठो बहुरिया सब एकदम से नरेटी धर लेती है अपने बलम पिया का ...ऐ जी सरम कल्लो ..अमिताभ नहीं बन सकते कम से कम एक काम तो उन जईसा कर दो हो ....बताओ अमिताभ बच्चन जी किए व्रत हेमामलिनी के लिए ...अरे अईसन व्रत तो सब्बे कर लेगा जी ...मगर हेमामलिनी भी मिले न जी ..छन्नी ले के ...आयं ..ओह मतलब हायं

_____________________________________________________________________
खबर :-कॉमनवेल्थ के बाद दिल्ली लौट आई पुराने ढर्रे पर

नज़र -अबे तो केतना दिन ई लोग ढोंग करके रहेगा बे ..और साले तुम लोग पब्लिक का तो एकदमे छाप देता है ..ई मामा कलमाडी ..और मौसी दीक्षित को तो कुछो नहीं कहा ..ऊ लोग तो कौमनवेल्थवा से पहिले भी कौमनवेल्थवो में और उसके बादो साला ..एके ढर्रा पर रहा ..खूब दुनु हाथ से साला लूट लूट के देश का वेल्थवा को एतना कौमनिया के खाईस कि पूरा देश का लोग कुकुर बनके रह गया .....अरे सुन न रहे थे कि खेलवा में सब तरफ़ कुकुरए कुकुर दिखाई दे रहा था ....ऊ सब ठो पूरा दिल्ली का लोग ही था न कुकुर कहीं का ....

_____________________________________________________________________
खबर :-मेट्रो के महिला कोच में चढे पुरूषों पर लगेगा जुर्माना

नज़र -लो बना दिए नयका कानून .....असल में तो तू लोग न साले बस एतने कर सकते हो ..बल्कि बहुत लेट किया रे ..अलग डिब्बा लगाने में ..हम तो सोचे थे कि ...ई घोषणा तू लोग महिला दिवस मनाने के दिन ....एक दम सान से करेगा कि ..महिला अधिकारों के लिए एक और बडा कदम उठाया गया ...उन्हें ..ऑल कैटेगरी से उठा कर महिला बना दिया गया है ..अलग से महिला कोच ...। अबे हरामखोरों ...सालों तुम्हारी एतनी औकात नहीं है कि एक आम डिब्बे में महिलाओं की सुरक्षा का कम से कम इतनी कि वे इज्जत से यात्रा भी कर सकें .....तो काहे के अलग डिब्बे और काहे के अलग इंजन बे ...अबे कमीनों डिब्बे इंजन से का होगा बे एक अलग से पटरी बना दो न ......और उ पटरी पर अपना ई सब कानून को लिटा देना ...कहना कि आत्महत्या कर ले ..वैसे भी साले कौन सा जिंदा हो बे

_____________________________________________________________________
खबर :-बिहार में यूपी की तर्ज़ पर विकास कराएंगे : मायावती

नज़र -हा हा हा ई तो साला का पैरोडी बनाने टाईप खबर है जी .....

बिहार में यूपी की तर्ज़ पर विकास कराएंगी मायावती ,
हाथी न सही कोई गम नहीं , भैंसिया से काम चलाएंगी मायावती ॥
अरे कौनो चौक चौराहा नहीं बचेगा खाली , न राम , न सही ,
,काशी के राम को लटकाएंगी मायावती .....
जुरम हो गया यूपी में कम , अब बिहारो में क्राईम घटाएंगी मायावती,
कुछ को बना गए लालू जी मंत्री , बकिया को मंत्री बनाएंगी मायावती .....

ई तो साला गजबे खबर था म्युजिकल खबर ..

_____________________________________________________________________
खबर :-हडताल पर रहेंगे टीचर

नज़र -ओहो ...का बात है मास्साब का कलेजा फ़िर दुख गया रे ....ओह ई तो दुनिया एतना बदल गया मुदा मास्साब लोग आजो ओतना संवेदनशील है हो जेतना तब होता जब छाता और छडी से लैस होके जाता था ....बतोओ शिक्षके हडताल करेंगे तो देस का पढेगा ..खाली दीवाले पर लिख लिख के देस को आगे बढा दोगे कि ...सभी पढेंगे, सभी बढेंगे ....अरे महाराज दीवाल न बढेगा ..बढेगा ऊ जौन ऊ दीवाल के अंदर रहता है ....आप करिएगा हडताल तो सोचते नहीं हैं हो ...और एक ठो बात बताईये ..कहियों सब मास्साब लोग ट्यूशन का भी हडताल किए हैं ..कभी अईसन कौनो आंदोलन कि ..एक एक ठो विदायर्थी के घर जाकर कि अपने घर बुलाकर ..स्कूल के जैसा पढा देंगे ...बिना उनका बाप माय का गाढा पसीना को एक्लव्य का अंगूठा समझ के काटे जाते हो यार ..आ तभियो हडताल धुर लानत है यार

_____________________________________________________________________
खबर :-इंटरनेट से करवाचौथ मनाएंगी सुहागिनें

नज़र -बताओ रे भाई ..एक ब्लॉगर को अईसन खबर सुना देते हो साले पगला हो क्या रे ..जो उसका बीवी को पता चल गया न कि ..अबके पति परमेसर हमको चंदा मामा की जगह गूगल बाबा का कौनो अंडा दिखा के ..साईत कौनो स्ट्रॉ घुसेड के कोई मिनरल वाटर के ..दो बूंद जिंदगी के पिला के ही व्रत खुलवाएंगे का ..तो बेटा गूगल , विंडो, दरवाजे , सब भरभरा के उखड जाएंगे हम कह देते हैं हां ...

_____________________________________________________________________
खबर :-रेलवे की १३९ फ़ोन सेवा से गुमराह होते हैं लोग

नज़र -एक तो ई लोग .....चलते ही काहे हैं अईसन राह पर कि गुम हो जाते हैं ..अबे एक बात बताओ ई तीन डिजिट का लंबर का का राह है बे ,,,देखो सौ लंबर का हाल देख लो ..या तो हमेशा ..क्राईम से पहिले पहुंच कर अपना हिस्सा ले के चली जाती है ...न त हमेशा क्राईम के बाद पहुंच कर ..अपना हिस्सा ले ने चली जाती है । अब आओ एंबुलेंस ....ईके लिए तो फ़ेमस हईए है कि , इहां पिज्जवा साला आधा घंटा में पहुंच जाता है ..........मुदा एंबुलेंस जाने कबे पहुंचता है । और बताएं का तीन लंबर का राह और नेशनल हाईवे ,,बहुत है न ...अरे तनिक एक्जाम्पल ...प्लीज़ बी टेकन एज मोर सर ....लिया जाए हुजूर

_____________________________________________________________________
खबर :-सर्दी आने पर ही खत्म हो पाएगा डेंगू

नज़र -काहे ई बार का सर्दी में सीत के साथ कोहरा के साथ ....मोर्टीन मोस्क्यूटो क्वायल का मिक्स्चर भी होगा हो कि डेंगू खत्म हो जाएगा । कि अबके दीवाली पर चीनी पठाखा में मच्छर मार कीटाणु भी डलवाए हो एक लेयर ........तो फ़िर बात का है रे । रे यार ई ..मच्छर सबको स्वेटर जैकेट का जरूरत तो है नहीं कि तुम साले उसको डरा रहे हो कि देखो बेटा अबके बारिश बहुते हुआ है ...और अबकि ठंडा भी खूब पडेगा ..साला ई सब से तो एक आदमी को ही डराया जा सकता है , हा हा हा बताओ जो कहता है कि सबसे शक्तिशाली जीव हैं उसको डराया जा सकता है ,मगर मच्छर को नहीं

_____________________________________________________________________
खबर :-पाकिस्तान नहीं जाएंगे बराक ओबामा

नज़र -हां तो .......लो साला तो अब ई भी खबर बनेगा रे , ..साला ओबामा कहां कहां जाएंगे , कहां नहाएंगे कहां धोएंगे ई सब खबर भी पढना पडेगा ..ओईसे भी साला ई तो पहिले ही पता है सबको कि जहां पर ओसामा होंगे वहां ओबामा नहीं न जाएंगे ....दुनु का अपना अपना स्टेटस है जी ...। हां तो पाकिस्तान न जाएंगे ...फ़िर आगे ..हां हां साले बोलो बोलो ....इंडिया आएंगे ...काहे ओबामा का बाप इहां कुछ छोड गया था जो लेने आएंगे ..। साले वीज़ा देने में नौकरी देने में लोगों के वहां जाने में तो बहुत खराब फ़ील होता है जब देते हो इंडियन सब को ..अब पाकिस्तान नहीं जाएंगे तो इंडिया जाएंगे ...साला नेतवन सब गधा है जो आपको बार बार ई मौका देता है ...हम लोग होते न तो साले वीजवे ..नक्सल एरिया का देते और कह देते ऊ ललका सलाम वाला सबको कि धर लो रे ई मामा को ...साला ओसामा को बेच देना इनको ....बहुत पैसा मिलेगा ..इंडिया आएंगे


_____________________________________________________________________
खबर :-अरुणाचल प्रदेश को चीन ने बताया अपना हिस्सा

नज़र -हां तो ई में लेटेस्ट बुलेटिन का है बे ...ई चीन तो साला जबे देखो इहे करता रहता है ..कभी अरुणाचल प्रदेश को कभी सिक्किम को , कभी नागालैंड को अपना हिस्सा बताता ही रहता है ...असल में कसूर ऊ साला सब का हईयो नहीं है ..रे भाई एक बात बताओ ऊ लोग का खनवा नहीं देखे हो ..चाऊमीन ...इट्स मीन कि चाऊ सबका मीन यानि मतलब अईसने होता है ..एकदम लटपट ..कौन कहां जा रहा है कौन कहां से आ रहा है कुछो पते नहीं है । हम तो कहते हैं कि साले को औफ़र दो कि बिहार और यूपी को भी डिक्लेयर करो न अपना हिस्सा ...सालों तब पता चलेगा जब लालू आ मायावती जईसन मुखमंत्री मिली न तबे बुझाई तोहके कि केतना आसान होता है ???

_____________________________________________________________________
खबर :-बंद होगा फ़र्ज़ी गैस कनेक्शनों का धंधा

नज़र -अबे ए रे खतम हो गया कौमनवेल्थवा सब हो तुम लोग तो साला बसा बसाया धंधा चौपट कर के रख दोगे बे ...। फ़र्ज़ी मतलब अबे ए इस देश में कुछो फ़र्ज़ी नहीं है अईसा अईसा दर्ज़ी लोग बैठा है कि ..फ़र्ज़ी को अपना मर्ज़ी से ..कन्वर्ट कर लेता एकदम ऊ का कहते हैं हां अल्ट्रेशन कर डालता है । फ़र्ज़ी बंद हो गया गैस कनेक्शन तो फ़िर चलेगा कईसे ....अबे ए ई भी नहीं जानता है कि बिना फ़र्ज़ी के जब संसद नहीं चलता है तो धंधा चलेगा बे ...। कुछो नहीं बंद होगा ...कहने भर से हो जाता है

_____________________________________________________________________
खबर :-हिंदी साहित्य को रखें सुरक्षित: डॉ राम नरेश मिश्र

नज़र -बिल्कुल यही तो हम लोक भी कह रहे हैं कि हिंदी खर्च करने लायक नहीं रही अब ...बहुते दुर्लभ टाईप हो गई है ...ई बात का एहसास हमको तब हुआ जब कलुवा परेस बाला कहता है कि ...सर हमरे कैलकुलेशन के हिसाब से तो ..आपका टेन कपडा का टोटल फ़िफ़्टीन रुपीज़ हुआ ...। हम लगा धपाक ....क्या रे कलुआ तू भी ..जैसे उ मनेमन बोल रहा था .....तब का समझते हैं हमरे घर में अंग्रेजी पढावे वाला कनेक्शन है ....। हम सोच रहे थे कि जल्दी हमको गली गली में ..अमिताभ बच्चन का नमकहलाली इंग्लिश देखने को पकिया मिलेगा । हां त सवाल ई है कि ई को सुरक्षित रखें कहां ...कौनो बैंक लॉकर पर तो अब भरोसे नहीं रहा जब से ई स्विस बैंक वाला सब भजपा को कहा कि हम अपना राज आपको दे देंगे ..आप एही मुद्दा पर इलेक्शन डिक्लेयर करवा लीजीए ...लेकिन हें हें हें जीतने सारा दो नंबर माल हमारे यहां ही सब मंत्री का एके साथ खुल जाए तो ...का । तो हिंदी को जमीन के अंदर इतने भीतर तक गाड दिया जाए कि ...अबकि वो इतने गहरे से पैदा हो कि ....उसकी मजबूत जड देखकर अंग्रेजी , फ़ंग्रेजी ..

_____________________________________________________________________
खबर :-एक साल में ढाई करोड पेटी शराब पी गए दिल्लीवासी

नज़र -तब ....बताओ ...त ओईसे ही दिल्ली को दिलवाले का सहर न न कहते हैं ..अरे कौमनवेल्थ के सफ़ल योगदान में बेसक ई मीडिया हम लोग को क्रेडिट न दे ...मगर मामा मौसी ....अबे अब रोज के खबर में बताएंगे कि मामा माने कलमाडी और मौसी माने दीक्षित ....और खिलाडी के साथ दिल्ली बाला नागरिक सब भी अपना तैयारी में बहुत जोर पर था ...जब देखा कि अरिस्स साला टमाटर प्याज दुनु को सौ रुपया में कुल दो किलो बाला रेट से भी अईसने स्टेडियम बना जो ससुरा ..आदमी को बेकार और कुत्ता सब को एक लंबर पसंदिया रहा था ....तो तबिए सभी नागरिक ई सोच लिया और मन ही मन प्रण किया ...कि हे मामे मौसी ..हम आज ही अपना कोटा ड्बल ट्रिपल ..आ मान लीजीए कि उसके बाद होस में रहते हैं आ पूरी तरह से मरियल कुत्ता बने बला हालात से तनिक ऊपर हैं तो कोटा को उहां तक पहुंचा के मानेंगे । बस वो दिन और आज का ये जा वो जा ..ये जा वो जा ...मतलब हम दारू के लिए निकलते थी ..बीवी सीधे मायके को निकल लेतीं थीं ..और आज ये हाल है कि ..किसी के घर में तो कोई पेटी बची है .......और न ही कोट ..दुनु जोड के जो होता है ऊ भी नहीं बचा है काहे से कि ..अरे कहे न सीधे मायके ..।

_____________________________________________________________________
खबर :-छ: पाकिस्तानी खिलाडियों पर फ़िक्सिंग का संदेह

नज़र -छ; पर संदेह हो गया रे ......एके साथ ..कि अलगे अलगे हुआ था ...का कह रहे एके मर्तबा में ....य़ार सच्चे ई लोग बहुत गंदा है भाई ..हमेशा संदेह में रहता है दु हो या छ: ...अच्छा अच्छा छ: खिलाडियों पर फ़िक्सिग का संदेह हुआ है ...चलो यार बांकी तो ..............हां का बांकी तो ...अरे बांकी सब का तो कोई संदेह नहीं..बल्कि पूरा यकीन है ..साला उ सबका तो सुबूतो है कि ..ऊ सब तो सिक्सर नहीं फ़िक्सरे था ....। अब तो सुने हैं साला सब ..दूसरका देस का खिलाडी सब के लिए सुपारी भी ले लेता है ....कहता है कि हम लोग को साले का कोई पाकिस्तानी चयनप्राश का एड करने को मिलता है । मैच के बाद तो अब्बू के साथ एस टी डी बूथ पर बैठे रहना पडता है । चलिए जांचिए ..हम अगला बांचते हैं

_____________________________________________________________________
खबर :-भारत बांग्लादेश की सरहद पर खुलेंगे बाजार

नज़र -कौन बजार ...मंगला हाट , कि शनि बजार ......रे खोलोगे कौन सा बजार ....एक मिनट एक मिनट ....अबे ई बताओ कि साले ई बाजार उजार तू लोग कब से खोलने खोलाने लगा रे ....हम तो देखे हैं कि साला बाजार तो अपने आप खुल जाता है ..जहां चार मकान दिखे उनमें रहने वाले लोग दिखे ..खुल गया बजार ..और छोडो ई जो ....साला शिक्षा का बाजार , बीमारी का बाजार , नौकरी का बाजार खुला हुआ है ...ई तुम लोग खुलवाया है ..बेटा रे ....खुल जाता है ..अपने आप खुलता है समझे । खोल लो ..मगर साला वहां शॉपिंग के बाद बिल काट के जो पैसा दुकनवा वाला सब देगा ..साल सब नकलीए नोट होगा ..ई पकिया है

_____________________________________________________________________
खबर :-गुटखा पाउच के अंदर निकला मरा हुआ बिच्छू

नज़र -रे दद्दा ..तनिक इ खबर का एंगल समझाओ तो पहिले यार ..न न क्लीयर करो .....मतलब कि ओईसे तो गुटखा पाउच के अंदर जिंदा बिच्छू निकलता है अबकि पता नहीं साला मर कैसे गया ...या फ़िर कि देखो रे ...साला सब ई नयका फ़्लेवर के नाम पर बिच्छू का टेस्ट डाल रहा है ..आज तो एक ठो कच्चा माल सप्लाई हो गया ..न त ई कह रहा हो कि देखो रे ....साला कह तो रहा कि ..अबकि डायनासोर निकलेगा पाऊच में ..और असल में डाल बिच्छू रहा है ...चलो रे जिसको मिला तब तकले चिबाओ ....अय्र देखो कि कौन कंपनी का बिच्छू दे रहा है ...ओईसे कलमाडी ब्रांड का लेटेस्ट है ..गजब डंक है साले का डस लिया और ठस लिया ....

_____________________________________________________________________
खबर :-बाइक तले मुर्गा मरने पर युवक की हत्या!

नज़र -अबे ओ .......साला ई तरह का ट्रीटमेंट तो मुर्गा सब को तब नहीं दिया गया था जब मुर्गी फ़्लू फ़ैला था ....ओह का दिन थे ऊ भी ...साला बीस दिन के बाद जाकर पता चला था कि .....ई खोंईचा सिंग साला लगातार रात में डिनर पर काहे बुला लेता था ....साला बाद में पता चला कि साले को सक था कि हम मिसेज सिंग को जादे देखते हैं ..सो कंफ़र्म करके सोचा था कि ..मरेंगे तो साथ में हमको भी मुर्गी मलेरिया करवा के जाएंगे ...ताकि ऊपर जाकर ..अननेसेसरी का टेंसन न रहे साला । अच्छा बाईक कौन था जिसके नीचे मुर्गा को पीच दिए ...अच्छा करिज़्मा ...मगर उसका रफ़्तार तो एतना तेज़ था कि मुर्गा तो उसका रेज़ में आता तो मरता नहीं पक्का ....अरे कह रहे हैं ..तो कुछ सोचिए के न कह रहे होंगे महाराज ...उसका रेंज़ में आता तो ..रोस्टेड चिकने बन के निकलता .....छोडो साला ई मुर्गा मुर्गा बहुत हो गया ...

_____________________________________________________________________
खबर :-बीटेक :जीरो अंक पाने वाला भी पास..

नज़र -अरे राम एतना खराब हालत है रे ......साला बीटेक का टीचर सब एकदम बेसरम आदमी लोग है ..साला अब तकले ज़ीरो देता ही है ....साला कौन जमाना का है रे ई लो ..हमही लोग के याद है कि हम लोग के चौरसिया सर ...सुरू किए थे ...कि रे लईकन सुनो ..जौन जौन को एक लंबर और उससे अधिक पाया है ..वे तो सीधा हाथ के तरफ़ खडे हो लो ...और वे जो बांकी के बच रिए हैं ..मदन पांडे , सलीम चौधरी , हासिम राय ....अरे ए झा ..तुम कहां रे ..चलो इ सबके साथे आ जाओ ..और बस एतना ज़ीरो देते थे एतना जोर जोर से देते थे कि ..कै बार तो हम लोग जोर जोर से लग जाता था ...फ़िर दौड के सौचालय जाना पडता था ...। बीटेक का इ इंजिनीयर सब भारत के काम अपने देस के काम तब आएगा जब कौनो पगलिया फ़िर से देस में ओलंपिक का न्यौता दे आएगा ...ई सब तो साला दो से तीन दिन में गिर जाने वाला पुल बना के विश्व कीर्तीमान बना देगा .....ओह बुलंद भारत की बुलंद तस्वीर तो हमको अभी दिख रही है ....एक दम क्रिश का ..ऊ बडका सीसा बला कंप्यूटर जईसन ..


ओह लगता है एके सांस में पढ गए न इसलिए ..चलते हैं अब संडे से पहिले न मिलेगा खबर अरे ई बाला महाराज ...पढने को ..ओईसे ई सबमें पाबला जी खबर भेज कर जनरेटर को स्टार्ट कर देते हैं बांकी सब ..तो बस धुचुक धुचुक बाला धुंआ ही है


शनिवार, 23 अक्तूबर 2010

.साला एक और राष्ट्रपति वेस्ट हो गया अमरीका .का ......खबरों की खबर यानि झाजी वक्रदृष्टि टाइम्स ....पढिए न ..









खबर :-दिल्‍ली जा रहा विमान पटना पहुंचा, यात्रियों का हंगामा

नज़र :-अरे ई कौन बात हुआ रे ..दिल्ली जा रहा विमान पटना पहुंच गया ....कमाल है यार ..ई दिवाली में कंपनी सब भी कईसा कईसा औफ़र देता है यार । उ पायलटवा साला जरूर पटना का गोल घर देखना चाहता होगा ..बहुत तमन्ना होगा देखने का ..तभिए अईसन कमाल कर दिया होगा । अरे भाई ई में यात्रियों का हंगामा का कौन जरूरत है जी ....अरे बुडबक लोग है यार ...ई काहे नहीं समझता है कि , आजकल पायलटवा सब पहाड नदी , गुफ़ा घाटी ...माने एयरपोर्ट को छोडकर कहियों लैंड कर जाता है ..अरे बंगलौर नहीं देखे थे । आउर हमको एक बात बताओ रे ..उहां से भी तो पिलेने में बैठ कर आए होगे न ..तो ई में हंगामा करने का का जरूरत था । देखो ई दुर्गा पूजा , दीवाली , और छठ में यातायात साधन सब वाया पटना हो जाता है बाय डिफ़ॉल्ट ..अरे हम कह रहे हैं ना यार सचे में ।

______________________________________________________

खबर :-पति ने खोया 12 करोड़ की लॉटरी का टिकट

नज़र :-ओए देखो रे ! ये आधी अधूरी खबर मत लिखा करो बे ..ससुरा स्वाद बेस्वाद हो जाता है ..। और फ़िर ये कोई खबर हुई भी नहीं कि १२ करोड की लॉटरी का टिकट खो दिया ..खबर ये होती कि ...पति ने खोया लॉटरी का टिकट ...साला बारह सौ का भी चलता .....और इस बात की खबर पत्नी को हो गई ...हा हा हा बस कुछ समय बाद ही ..पति ने अपना जीवन भी खो दिया ....या फ़िर कि पत्नी को इस बात की खबर होते ही गिन के बारह सौ..चप्पलों से शाबासी दी गई पति को ..या फ़िर कि पत्नी ने पति को छोडा और उसके साथ चली गई ...जिसे लॉटरी का टिकट मिला ...और .....अबे चलो चलो बे ..सब ठो खबर हमहीं लिखेंगे का ..तुम लोग अपना दिमाग काहे नहीं लगाते हो बे ....ओईसे ही मीडिया बने फ़िरते रहते हो

______________________________________________________
खबर :-अब रियाज नहीं करतीं, केबीसी देखती हूं :लता मंगेशकर
नज़र :-आयं ...ओह मेरा मतलब कि हायं ....तो खेलते हैं हम और आप कौन बनेगा करोडपति ....ओह ई सिचुएशन ...हां हां लता दी होता है अईसन ।एक्चुअली हम आपका कंडीशन एकदम ठीक ठीक एयर कंडीशन की तरह समझ सकते हैं .....जान रहे हैं कि आप इहे चैक करने के लिए देख रही हैं न कि ...कौन बनेगा में केतना कोसचन ..मयुजिकल फ़ील्ड से आता है ..आ कि ई चैक करने के लिए देखती हैं न ..ई सोनी वाला सब टोटल कोसचन में आपका और आशा दी का केतना केतना परसेंट कोसचन पूछता है ..देखिए देखिए दी ..अब बतवा समझ गए हैं तो आप ..मुस्कुरा रही हैं ..। अच्छा अच्छा अब जाए दीजीए ..अब ई तो मते कहिए कि .....ऊ आप अपना जेनरल नालेज बढाने के लिए देखती हैं आ कि फ़ास्टेस्ट फ़िंगर फ़ास्ट के लिए .....अरे जाईए ..आपको कौनो और नहीं मिला बनाने के लिए

______________________________________________________


खबर :-पाक को अमेरिका से मिलेगी भारी सैनिक मदद

नज़र :-अरिस्स बेट्टा ...। साला ई भिखमंगा का कटोरा फ़िर खाली हो गिया रे ..हां त सानिया मिर्ज़ा कौन एतना कमाई थी कि साला पूरा जिनगी ...पाकिस्तान अपना दावत उडाता रहता ....आखिरकार तो मालिक के पास जाना ही न था भिखमंगी के लिए । अरे समझ रहे हैं साला भारी सैनिक मदद ...कह तो साले अईसे रहे हो कि ..पूरा पैंटागन दे रहो उठा के पाकिस्तान को ....कि लो बेटा .....इहां बैठ के बनाओ पिरोगराम ..कि अफ़जलवा और अजमलवा को ...भारत सरकार अभी केतना दिन और ...".नेशनल गेस्ट " बना कर रखेगी । न त फ़िर जरूर साला अपना राष्टपति ओबामा के ही दे रही होगी कि ....ले जाओ ससुर को ..जब यहु साला ..ऊ सार दढियल .....ओसामा बिन लादेन को नहीं ढूंढ पाया ...साला एक और राष्ट्रपति वेस्ट हो गया अमरीका .का ....

______________________________________________________

खबर :-CWG: खेलगांव से एक करोड़ का सामान उठा ले गए ऑस्‍ट्रेलियाई!
नज़र :-हा हा हा हा मतलब साला डबल कमाई चल रहा था ....एक तरफ़ खिलडियन को बोल दिया कि तुम लोग स्टेडियम का माल साफ़ करो ...आउर ऊ जौन साला सब सामान ढोने , धोने ,पोंछने , अरे उ का कहते हैं मसाज करने .....अरे धत बस कीजीए महाराज ...मसाजे तक रहने दीजीए न जी .....साला ऊ सब चादर तकिया तौलिया , आउर सुने है कि कई जगह से कमोडवा भी कबाड ले गया है साला सब । साले कलमाडी मामा सोच रहे होंगे हमहीं अकेले कमाए ...आ ऊ ऑस्ट्रेलिया सरेआम लूट के चल दिया । साला सब पता नहीं एतना सामान लूट के रखा किसमें .....हां रे कुछ तो भी सुने थे कि साला ..तुरंते खत्म हो गया था राष्ट्रमंडल खेल में .....कौन ची तो था रे ......अरे हमको नहीं याद आ रहा है ..छोडिये ..

______________________________________________________
खबर :-शर्मनाकः एयरपोर्ट पर भिड़े दो केंद्रीय मंत्री
नज़र :-हैं शर्मनाक ....ये साला हो क्या है इन दिनों साले हवाई सफ़र को आजकल या तो उसके रिलेसन में ...दर्दनाक खबर आती है ...या शर्मनाक...इस साले नाक को अबकि रामलीला में ही कटवा क्यों नहीं दी बे ...जाने कैसे कैसे भाव उतपन्ना कर रही है ......अच्छा चलो ये मान लेते हैं कि केंद्रीय मंत्री के भिडने को शर्मनाक कह रहे हो ..अबे ए माथा बौरा गया है का रे ....ई सब बात कौनो बोला जाता है रे .....रे अब तो साला मंत्री मंत्री को गरियाया , जुतियाया , धकियाया ..आदि टाईप का खबर तो रूटीन रिपोर्ट है रे ..इमें काहे कि शर्म ...अरे कहो कि इंज्वाय करने की चीज़ है ये ....इस बहाने वो काम तो हो रहा है जो पब्ल्कि करना चाहती है ...का
______________________________________________________
खबर :-घर की रखवाली के साथ कुत्तों से भी भिड़ जाती है 'बकरी'..चीन

नज़र :-हम ओईसे ही तो चीन के फ़ैन न न हैं ...अरे उहां का नकचपटा बौना सब को आप इग्नोर भी करें तैयो....उसका बकरी को , उसका मुर्गी को , उसका टॉर्च को , उसका लाइटर को ..उसका सेल को ..आउ अब तो साला उसका दीवाली लाईट और पटाखा को भी इग्नओर नहीं न कर सकते हैं । कहिए साला कुत्ता सब से भिड जाती है रे ,,,,इहां साला कौमनवेल्थ में सुने अपना कुत्ता सब इंटरनेशनल फ़ेम का स्टेटस मेंटेन् किए हुए था ...और ई चाइनीज बकरी सब कुत्ताकर्म को घिना कर रख दिया एकदम से ..छोडो जाओ हम नहीं लडाएंगे अपना कुत्ता चीनी बकरी से ..हमारे कुत्ते ...ब्रगेडियर थे , ब्रगेडियर हैं और हमेशा ही ब्रगेडियर ही रहेंगे ( साभार राजकुमार जी , फ़िल्ल्म तिरंगा .......आपकी सेवा में हाजिर हूं श्रीमान )

______________________________________________________
खबर :-OC ने कहा CVC से, 'सैंपल्स चाहिए तो निकालो 40 करोड़ रु.महीना'

नज़र :-जे बात ई हुआ न साला सेर पर सवा सेर ....आउर करो जांच ..अबे किस बात का जांच करना है तुमको ..ई जौन बात पूरा देस को पता है अबे देस को छोडो आज टाइम्स का हेडलाईन सुनो ..आखिरकार भारत ने अमरीका की बराबरी कर ली ....एक अमरीका के हैं ओबामा ...और उनकी टक्कर के एक ही और हैं और वो हैं ...वो हैं ..ओ मामा ....बोले तो कलमाडी मामा ..जिन्होंने मौसी के साथ मिल कर ...अबे ए नहीं नहीं ..यार अरे नहीं न कोई भ्रष्टाचार नईं ....अरे किया होगा हम उसके लिए नहीं कह रहे हैं ..कह रहे हैं कि दुनु जन ने मिलके ....पूरा दस दिन तक ....साला रिक्शा बंद कर दिया रे दिल्ली में ........हां बताओ साला पावर का मिसयूज न हुआ ई तो .....हा हा हा साला गजबे खबर हो गया ई तो

______________________________________________________

खबर :-RTI में पूछा, क्या इंजीनियर को सेक्स की बीमारी है?

नज़र :-एक इसिलिए तो साला ई देश में आज कानून का हालत .....एकदमे ऊ अयोध्याभूमि बन गया है ...साठ साल में तो फ़ैसला हुआ है ..उउ भी साला सेमिफ़ायनल ....अभी फ़ायनल का चालीस साल का पारी बांकी है ....अब ई आरटीआई को ही देख लो ...उउ दिन मदनवा ऊ कलुआ को कह रहा था कि ....लगाएं साले आरटीआई ....साला सेकेंड हैंड ट्यूब का दाम ,.,,,,चौंतीस रुपया होता है ...आ साला कलुआ सोच रहा था कि ...अरिस्स ...ई था उ टैक्स जो कह रहा था कि बजट के बाद ट्यूभ सब पर लगेगा .....साला आरटीआई ...गजबे नाम है रे राम सुने हैं कि ई बार एक बौराहा ने ऐसी ही एक आरटीआई लगाई तो उच्च न्यायालय ने जुर्माना ठोंका पचहत्तर हज़ार


______________________________________________________
खबर :-भारत से गए दलितों ने बांगलादेश में मांगा आरक्षण

नज़र :-तब लोग कईसे और काहे कहता कि ई इंडियनवा सब अपना भारतीयता को याद नहीं रखता है कोई ..अरे आरक्षण से बडा नेशनैलिटी का पहचान हो सकता है कोई .....हम तो कहते हैं कि आरक्षण को ही नेशनल के नाम जो कुछ सब ठो दे देना चाहिए ..जैसे नेशनल स्पोर्ट , नेशनल गेम , नेशनल लैंगुवेज ....और माने सब कुछ नेशनल जो है उ आरक्षण है ...। चाबास सुनो अब तुम लग जब शुरू करिए दिए हो तो साला सौ नहीं ....पांच सौ प्रतिशत तक का शेयर डिसाइड कर दो ..काहे से कि देर सवेर इंडिया को भी इसका जरूरत पडेगा तब तुम अपना हुसियारी अपना दोस को दिखाना ...अरे तब ...हम कह रहे हैं न .....हां अरे फ़ेर लो मूंछ पर हाथ ..कोई तीसरा देख रहा है का

______________________________________________________

खबर :-शादी में पत्नी को देख दीवार फांदकर भागा पति, गाज़ियाबाद

नज़र :-अरे साला एतना सदमा लगा ...बताओ तभिए कहते हैं सादी उदी का इंतज़ाम बायगौड ...टेंटवे में ठीक है .साला ई एक्सक्लुसिव सिचुएशन में जादे से जादे ..ऊ को फ़ाड लो और निकल लो ....। बताओ साला केतना सदमा हो जा रहा है आजकल पत्नी को देख के भाई ..अबे ई सरऊ सब को ई कौन समझाए कि शादी में पत्नी ही दिखाई देता है ..अरे यार अगर गर्ल फ़्रेंड भी होगी न तो ..या तो नहीं दिखाई देगी या फ़िर पत्नी ही दिखाई देगी । अरे मार तेरी ई का कह रहे हो ..दूसरा शादी कर रहा था ..पहली पत्नी आ गई तो दीवार फ़ांद कर भाग गया ...का बात है ..इसका मतलब बीवी से जबरद्स्त आतंकित प्राणी था ....


_____________________________________________________

खबर :-हार्मोन भी आपकी जेब की औकात देखकर देते है साथ

नज़र :- अबे हार्मोन हैं कि हारमोनियम बे ...ई तो ससुरा प्रेमिका का ही कौन पार्ट पूर्ट है ..जो जेबि देख कर साथ देता है महाराज ...रे भाई ई और बताते चलो तो कि ..ई फ़ार्मूला खाली जेबे पर न लागू है न ..मान लो रुमाल में मोटरी बांध के चलें तो हार्मोनवा का रिएकश्न रहता है ...अरे साला जांचबे नहीं किए .....तो जांचो न तब तक हम आते हैं ..अरे कल महाराज

मंगलवार, 19 अक्तूबर 2010

"झा जी वक्रदृष्टि टाइम्स " ..बाह बाह ...का अखबार निकाले हैं ..गजबे बुलेटिन है यार ..






खबर :- साढ़े पांच करोड़ लेने के बाद रहमान ने मांगी माफी


नज़र:-हैं साढे पांच करोड लेने के बाद मांगी माफ़ी रहमान जी ..काहे हो अच्छा अच्छा ,,इंडिया बुला लिया ..थीम सांग के लिए न ..हें हें हें ..एकदमे ठीक किए जी ...आपको ही काहे ..इंडिया बुलाने वाले हर शख्स को माफ़ी मांगनी ही चाहिए ...लेकिन एक बात सुनिए हो ...ई एतना ढेर कमा धमा लिए ..एकदम से साढे पांच करोडे लपेट लिए हैं ..आउर तब कहते हैं कि ..ई स्तरीय नहीं था , सुनिए न ..हम भी एक ठो कीर्तन भजन लिखे हैं .....अरे आगामी ओलंपिक के लिए जी । का ! का कह रहे हैं ...ओलंपिक के लिए गनवा लिखने से का होगा जबकि अभी ओलंपिक का कौनो निश्चित नहीं है ..लो कमाले करते हैं आप अरे ई कलमाडी मामा का बैंक बैलेंस देख के तो पता नहीं केतना मंत्री बौराया हुआ है ...नहीं न मानेगा ..बिना ओलंपिक कराए ..अरे जान रहे हैं आप कहिएगा कि ..नहीं हमसे नहीं होगा ...लो तो का हुआ ..बाद में हमहुं माफ़ी मांग लेंगे ....ससुरा एतना हाइली पेड माफ़ी के लिए ..इंडियन आयडल से भी तगडा कंपटीसन हो सकता है ..अरे करा लीजीए महाराज
_________________________________________________
खबर :- अपने विभागों के भ्रष्टाचार पर ध्यान दें शीलाः कलमाड़ी

नज़र:-एकदम ठीक कह रहे हैं मामा ...ई मौसी को सब जगह टांग घुसेडने का आदत हो गया है .,..अरे सबको अपना अपना विभाग दिया गया है जब भ्रष्टाचार करने के लिए तो ..अपने अपने विभाग को खुदे एक्सप्लोर करिए न जी ..अरे बहुत स्कोप है सब जगह मर्दे ...एक से एक कमाल कमाल का आइडिया है ..और फ़िर ध्यान जब खाली भ्रष्टाचार पर ही देना है ...अरे रोकने पर नहीं जी ..दुर महाराज ..ई काम आजकल ई देश में कौनो कर रहा है का ..तो फ़िर मौसी को मामा ठीके न डांटें हैं ...भाई आप को तो मुखमंत्री बना दिया गया है ..माने पूरा दिल्ली का मलकईन ..ऊपर से ..बडकी मौसी पूरा देश का संचालक अध्यक्ष हैं ....तो फ़िर ई में झगडा करने का कौन बात है जी ..अरे पब्लिकवा कोई कह थोडे रहा है कुछ आप लोग के ..आयं

_____________________________________________
खबर :- अब नौकरी की तलाश में जुटा 'शेरा'..

नज़र:- बताओ एतना जल्दी ..शेरा बना हुआ सतीश बिडला जी ..अपना लिए नयका नौकरी ढूंढ रहे हैं ..हां त का करें ..ढूंढना ही पडेगा ...अब तो थोडका दिन के बाद ..जौन खिलाडी सब ..सोना चांदी पीतल लोहा का तमगा जीता है ..ऊ सब भी कौनो न कौनो काम ढूंडबे करेगा न .....अरे ई देश का इहे परंपरा है महाराज ..आऊर चाहे जो भी हो जाए ई देश ..अपना परंपरा को जरूरे निभाता है एकदम से ठोक के । तो शेरा जी अब नौकरी ढूंढ रहे हैं ....मुदा उनका रखेगा कौन ..उनका तो खाली मूंछ आ पूंछ हिलाना आता था ..अब ई क्वालिफ़िकेशन से तो मल्टीनेशनल तो दूर ....भालेसर हाट का सब्जी मंडी में उनका भिंडी बेचने का नौकरी भी न मिल सकता है ..हां ई हो सकता था कि सरकार सिफ़ारिश करती कि ..अब से दुनिया में कहियों ..कौमन वेल्थ गेम्स हों तो ..भारत का कुतवा और शेरा को कंपल्सरी कोर्स की तरह शामिल किया जाए ..तो शेरा को पेडा खाने के लिए मिल सकता था ..मुदा अब तो ....चलिए देखते हैं .....
______________________________________
खबर :- अब महंगाई का पारा भी नापेगा गूगल

नज़र:-आयं ....ई गूगल का तराजू तो कमाले है ..महंगाई का पारा नापेगा बताईये भला ...अरे का का कर लेता है ई गुगलवा जी ...अच्छा अपने देस का भी नाप लेगा का ...अरे कमाले दर्जी है ..सेंटीमीटर में नापेगा कि लीटर में तनिक ई भी पता चल जाता तो बढियां रहता न ..हम लोग के भी जानने में आ जाता ..न तो जईसे सरकार नापती है ..ससुरा जाने कौन ..नप्पी ले के नापती जोखती है ..हम तो कै बार देखे हैं कि ..एतना जोर शोर से कह देती है कि अबकि ..सूचकांक एतना ऊपर गया ....और महंगाई की दर घट रही है अऊर सबसे जादे तो ढोल पीटती रहती है कि ..फ़लांना ढिमकाना विकास एकदमें धनाधन टाईप हुआ है ..मुदा हम जबले बसेसर काका को चैक करते हैं ..सब बार , देखते हैं कि नून तेल डाल के कईसे कईसे तो चिबाते रहते हैं .......उनको का पता सार ई गूगल का और ससुर ई सरकार का ....नापते रहे

_______________________________________________
खबर :- मेट्रो की लागत में मिल जाएगी 5 लाख को कार

नज़र:-आयं अबे बेडा गर्क हो तुम्हारा ..साला होना उलटा चाहिए और तुम करोगे सोचोगे उलटा ही ..अबे एतना मुश्किल से तो लोगों को समझ में आया था कि मेट्रो को खाली अल्टरनेटिव सवारी के रूप में उपयोगे नहीं किया जा सकता है बल्कि ..उसको जादे यूज करने से ई पोलुसन भी काफ़ी कम होता है जी ....एतना दिन बाद तो गलती से एक ठो सही काम हुआ है ऊ में भी लगे ..दाम दिगर करने कि एतना में ..एतना लाख लोग को कार हो जाएगा ..केतना करोड लोग को सायकल मिल जाएगा ....केतना अरब लोग को रिक्शा मिल जाएगा । अबे ई बताओ कि , साला ई कौन तरह का कैलकुलेशन है बे ..चल भाग ....न चाहिए कार ....मेट्रो ही ठीक है रे समझा कि नहीं बौराहा सब बे ....
_______________________________________________
खबर :- पहली बार बसों में पैंट्रीकार व एलसीडी टीवी

नज़र:-हा हा हा रे भाई ..तू लोग भी कमाल है यार ..ई बताओ पहिले कि ई सडल आइडिया सब कौन बनाता है जी ..फ़िर बिना जाने पूछे तू लोग उसपर अमल भी कर लेते हो ..आउर बाद में पब्लिक को अईसे बताते हो जईसे केतना बडका तीर मार लिए हो ..अबे भाई आजकल तो ससुरा मोबाईल से किसी को फ़ुर्सत है हो जो तू लोग का एलसीडी ...और सीसीडी , डीवीडी और जेतना भी टाईप का टीवी है ऊ देखेगा .,,...ऊ भी बस में बैठ कर । अब करो दूसरा बात ..एक बात बताओ तो रे ...ई बस में पेंट्री कार से जादे जरूरी है कि एक ठो सुलभ शौचालय जी ।अरे देखो यार ...ई खाना पीना तो कहियों चल जाता है जुगाड से ..ढाबा ढूबा का कौनो कमी नहीं होता रस्ते भर में ...मुदा ई खाने पीने के बाद जब ..परेसरवा जोर मारता है न तो बप्पा रे ..मन करता है कि ई ससुरा स्टेयरिंग चाहे ड्राईवर के हाथ में रहे ..मुदा ब्रेक तो पकिया सवारी के ही हाथ में होना चाहिए ..का कहते हैं ..


_____________________________________________
खबर :- 4 माह में सरपंच के 2 बच्चे! जयपुर

नज़र:-लो बताओ भला ....तब लोग शोर मचाता है कि का तो भारत में लोकतंत्र में सरपंच सब को कौनो अधिकारे नहीं है ..बेचारा सब एकदमे दीन हीन है ..अबे तो ई का कोई दीन हीन आदमी का काम है का बे ...सिर्फ़ चार महीने में दू टो बच्चा हो गया ....ई ससुरा ..गोरमेंटि अनुदान के लिए लोग बाग केतना पगला जाता है ....अरे भईया सरपंच जी ..चलिए ई भी माने कि दु ठो बच्चा के नाम से आपको ..रासन कार्ड न त कौनो आउर स्कीम स्कूम में कोनो फ़ेदा उठाने के चक्कर में ..भर दिए होंगे जादे उनिट न हो जाता है इसलिए ..लेकिन हो महाराज तनिक टाईम इंटरवेल तो अईसन रखिए हो कि ...साईंसवा को भी एतना जोर का झटका नहीं लगे ..कि बेचारा सुसाईड कर मारे । सोच रहे हैं कि साईंटिस्ट सबको पता चलेगा तो जयपुर के ई सरपंच साहब को कहेंगे ..घणी खम्मा हुकुम ...कईसे हुआ ई जुलुम ??

_____________________________________________
खबर :- जांच एजेंसियां एक माह में रिपोर्ट सौंपें

नज़र:-अबे सरकारी बाबू की तन्ख्वाह है का ..कि चाहे कुछ करो न करो ..एक माह में बराबर सौंपनी ही पडेगी ...रे है कौन ई एजेंसी बे ..जो एक माह में रिपोर्ट सौंपेगी । ओहो ! तो ई बवाल ..राष्ट्रमंडल खेल के बारे में है ..अऊर जांच एजेंसी ..पूरा जांच करके एक माह में रिपोर्ट सौंपेगी ..मुदा तनिक ई बताया जाए महाराज कि रपटवा आखिर कौन फ़ील्ड का तैयार करवा रहे हैं जी ..ई खिलाडी सब अचानके ...आपके बियोंड द एक्सपैक्टेशन जाके ....एतना सारा मेडल कैसे जीत लिया ...जबकि कौनो फ़ैसिलिटी भी नहीं दिए थे इसका ..कि मामा कलमाडी और मौसी दीक्षित में से केकर बैंक बैलेंस ....एकदम धडाक दनी बढ गया इसका । ओहो अब समझे .....जांच एजेंसी एक माह में ई पता करेगी कि ..आखिर कौन कौन ..देश से परदेश से ..कौन स्टेट से कुतवा ,बंदर सब कौमन वेल्थ में पार्टिसिपेट करने आया था ...रुको रुको ..अबे ई साला तू लोग कहीं भ्रष्टाचार का पता करने कराने वाला नाटक तो फ़िर नहीं न शुरू किया है न रे ..देखो ई रामलीला ई देस का लोग ..अब जाने केतना बार देख चुका है इसलिए अब तो माफ़े करो भईया ....
___________________________________________________
खबर :- राष्ट्रमंडल खेलों से देश के छवि खराब हुई है :मणि शंकर अय्यर

नज़र:-आयं ई का कह रहे हैं अय्यर साहब ..तनिक क्लीयर किया जाए न सरकार । कौन एंगल से कह रहे हैं जी ..एतना तमगा तो खिलाडी सब जीत लिया कि ...अब तो कौमन वेल्थ देख रहा ..एक ठो कौमन मैन इहे सोच रहा है कि ..साला टिकट लेके ई देखने से तो अच्छा था ....कि भागे ले लेते ..साला कौनो ने कौनो मेडल तो था ही अपना ...नाम दाम अलग से मिलता ..आ आप कह रहे हैं कि देश की छवि खराब हुई है । अब देखिए ....जे आपका इसारा ...उ कुकुर , बंदर , सांप , बिछौना , स्वीमिंग पूल वाला घटना सबसे है ..तो फ़िर अपना जी के ठीक करिए जी .....अरे ऊ सबके कारण कब
_________________________________________________
खबर :- गन्ने के खेत से साढे पांच हजार बोतल शराब बरामद उत्तर प्रदेश

नज़र:-बताईये ...केतना ठर्रामय होता जा रहा है ई देस ...जौन खेत से चीनी निकलना चाहिए थी ( अरे कुसियार , गन्ना जी , ) ऊ खेत से दारू का बोतल निकल रहा है ...तो फ़िर कहिएगा कि नहीं ...यूपी में है दम ...जो न हो जाए कम ...।हाथी सायकल की टक्कर है ...जनता फ़िर भी फ़क्कड है । अऊर तमाम तरह का स्लोगन ..स्टेनगन सब उपी में न बनता है जी ..आखिर जमीने एतना उपजाऊ है तो का होगा ....जब गन्ना का खेत से ...दारू का बोतल निकल सकता है तो कल को ....दारू का फ़ैक्ट्री से डबल रोटी भी निकल सकता है जी ..जय हो माया की माया ...हाय ये क्या निकल के आया
____________________________________________
खबर :- रेलवे ड्राईवर बनना चाहते थे ओमपुरी

नज़र:-अच्छा ...कौन रेल चलाने का मन था ई भी बताईये दीजीए ..जरूर ई ख्याल आपको मेट्रो टरेन देख कर आया होगा ..हां हां अरे हम कह रहे हैं न ..जब इंजनवा से लेकर कर बोनटवा तक में एसी फ़िट होगा तो चलईबे करिएगा टरेन ..ऊ कोयला झोंकने वाला में बने होते न ड्राईवर तो ....ओमपुरी से सदाशिव अमरापुरकर बन जाते जल्दीए । आउर जौन हिसाब आजकल ट्रेन ठोकाठोकी चल रहा है ...आप जल्दीए लौट के .....बॉलीवुड हॉलीवुड करे लगते ......अब मन है तो कहिए ..। अरे दीदी हैं न ....नहीं दुरंतो ..माल गडिया तो मिलिए जाएगा ..ट्राई मारने के लिए ...कहिए एप्लाई करना है का
___________________________________________________
खबर :-जल्‍दी मरने को कहा तो 'रावण' को आया गुस्‍सा, रामलीला स्‍टेज पर ही की मारपीट

नज़र :-हा हा हा ..का बात है ..ई हुई न कोई खबर ..सार ई कलजुग में जो न हो थोडा है ....एक तो बेचारा रावणवा ..केतना ड्यूरेबल निकला कि देखो ....सतयुग से लेकर अब तकले साथ निभा रहा है ...हर साल दस दिन तक नाचता कूदता है ..फ़िर उसके पिछवाडे पटाखा लगा के ..सब लोग केतना खुसी मनाता है ..ऊपर से जुलुम ई कि सरे आम उसको स्टेज पर आप कहिएगा कि जल्दी से मर मरा जाए ..तो होईबे करेगा न ..अरे रावण का भी टोलरेंस पावर आजकल पोल्यूटेड न हो गया है जी ....। हा हा हा बताओ ..रावण को बेचारा को मारपीट का नौबत आ गया है ...देखना कौनो दिन पक्का अपना पिछवाडा में लगा आग को बुझाने के लिए ..दौड कर किसी के स्वीमिंग पूल में कूद जाने टाईप का खबर भी पढिए लीजीएगा आप लोग

__________________________________________
खबर :- चिदंबरम के घर की फोटो खींची, छात्र कर लिए अरेस्ट


नज़र :- आयं ..फ़ोटो खींचा ..ऊ भी चिदंबरम के घर का ...एकदमे एरेस्ट होने वाला काम किया था ..ई जो भी किया था ..अबे ई भी कौनो फ़ोटो खींचने का चीज़ था ...साला आउट डेटेड माल को कौन देखता है यार ...अरे खींचना था तो कलमाडी मामा का न तो मौसी का घर द्वार दलान , खलिहान का फ़ोटो खींचता ....ई लुंगी बाबा का फ़ोटो खींच के जौन गुनाह किया उका भुगतान तो करना ही था,.....भुगतो...,
_________________________________________
खबर :- 1300 करोड़ में वाजपेयी को खरीदने की हुई थी कोशिश

नज़र :- अब्बे का कह रहे हो यार सच्चे .......ठीक कहो ..कसम से ..आयं पक्का न ..रे ई सब भी होता है ....वाजपेयी साहब बिकाऊ भी थे ...कमाल है यार ..। और कौन कौन था लिस्ट में ..पूरा सूची ..माने रेट लिस्ट साटिये हो ...हम पब्लिक लोक के भी तो पता चलना न चाहिए कि ..हम लोग के नेता लोग का ..वैट वुट लगा के कुल केतना कॉस्ट पडता है ..अच्छा सुनिए .ल.ई खरीद कौन रहा था ....चलिए छोडिए का ....पूछें आप से और का बताएंगे आप ..फ़िर केतना बताएंगे आप ..

ओह आंख दुखने लगा जी ..तनिक झंडु बाम लगा के आते हैं ....

Google+ Followers