इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.

शनिवार, 13 मार्च 2010

सरकार गरीबों की किडनी के लिए चिंतित : अद्धा , पव्वा और पाऊच वाली दारू भी हर्बल हो

खबर :गरीबों की किडनी रोग पर चिंतित है सरकार
नज़र :-बताईये फ़िर भी लोग कह रहे हैं कि सरकार कुछ नहीं कर रही है गरीबों के लिए , महंगाई के लिए कुछ सोच नहीं रही है । जबकि गरीबों के लिए तो कुछ भी सोचना ही आज के समय में सबसे बडे साहस का काम है , बेशक गरीब के पेट के लिए न सही मगर किडनी यानि गुर्दे के लिए , वो भी गरीब के गुर्दे के लिए सोचना कोई कम बडी उपलब्धि तो कतई नहीं मानी जा सकती , और फ़िर हो भी क्यों न आखिर गरीबों की गुर्दे के  कारोबार का टर्नओवर भी कुछ कम बडा नहीं है । खैर ,मगर सरकार ने पूरा तय किया है गरीबों की किडनी खराब होने से बचाने का एक ही उपाय है कि उन्हें जो अद्धा , पव्वा उपलब्ध है वो गुड क्वैलिटि का नहीं होता है । इसलिए सोचा जा रहा है चीनी के धंधे से जो मुनाफ़ा हो रहा है , उसका थोडा सा हिस्सा पव्वे अद्धे के कल्याण के लिए लगाया जाएगा । और गरीब को पाउच में भी बढिया स्वाद वाला हर्बल टाईप का दारू उपलब्ध कराया जा सकेगा ...जय हो जय हो ॥
_______________________________________


खबर : पेट्रो कीमतें कम न होंगी :वित्त मंत्री
नज़र :- नहीं होंगी जी , बिल्कुल भी नहीं होंगी । और आपके फ़रिश्ते भी चाहें न तो भी नहीं कम होंगी , अबे भाई ये बताओ जब तुम लोग पाव भर चीनी और किलो टमाटर का भाव नहीं कम करवा सकते , जो कि अपने ही देश में उपजते हैं तो ये पेट्रो तो फ़िर भी सऊदी से मांग मूंग कर लाते हो ..उसकी कीमत कहां से कम कर लोगे भैय्या ?? लेकिन यार एक बात समझ में नहीं आई ये कौन सी ऐसी स्टेटमेंट थी जो आपने मुंह फ़ाड कर मीडिया को बताया कि जिस पर गर्व किया जा सके । अबे ये तो नहीं भी बताओगे तो सबको पहले से ही पता है । ..अच्छा अच्छा और कुछ था नहीं आज बोलने छपने के लिए ....फ़िर तो ठीक है ॥
______________________________________

खबर :- अब फ़र्जी वीजा स्टिकर के धंधे में भी आईएस आई

नज़र :- ओह ये मंदी जो न करवाए , अच्छा भला बम बारूद का धंधा चल रहा था । अमरीका से पहले बम बारूद मिलता था , फ़िर उसके फ़ूटने पर आतंकियों की तरफ़ से भी ईनाम शिनाम ....यानि डबल बेनिफ़िट । मगर अब उस धंधे में भी वो बात नहीं रही । कारगिल के बाद से तो घुसपैठ आदि का पार्ट टाईम काम भी जैसे सुस्त पड गया है । और ऊपर से मंदी की मार । अब नकली नोट के काम से पूरे देश का पेट तो नहीं भर सकता न तो ऐसे में यदि कोई अपनी बिजनेस पोलिसी के हिसाब से धंधे में कुछ नई कोशिश कर रहा है तो ये खबर बन गई । बताओ यार शराफ़त को जमाना ही नहीं रहा ....अगला कुछ तो करेगा ही न । अब ये मत सलाह देने लगियेगा कि ..विकास का , उद्दोग का , और ऐसे ही फ़ालतू कामों में अपनी बरसों की बनाई इमेज खराब कर ले ।
______________________________________

खबर :चीन ने गूगल को चेताया

नज़र :- यार अब इसमें चीन की बहादुरी को सलाम करना है कि गूगल बाबा के खराब चल रहे टाईम को । आजकल गूगल बाबा वैसे भी बहुते गुगली का शिकार हो रहे हैं । हम तो खुदे सोच रहे हैं कि चेताएं उनको कि ...का बाबा कब तक ..ई हिंदी ब्लोग्गर्स का एड सेंस को सस्पेंस में रखोगे ...सबको टेंस में रखे हुए हो । अरे खोलो जी सबके लिए नयका अकाऊंट सब । ओईसे सुने हैं कि चीन कहा है कि गूगल बाबा का हैकिंग बर्दाश्त नहीं करेगा ...लो चोर मचाए शोर । जो ससुर चीनी सब ..भारत का पूरा क पूरा क्षेत्र को हैक करके बैठा हो ..ऊ भी अईसन बात कहता फ़िर रहा है । का किया जाए ...ई आजकल बाबा लोग का टाईमे खराब चल रहा है शायद ।
______________________________________

खबर :-जल्द भारतीय को चांद पर ले जाएगा रुसी यान

नज़र :- काहे जी रूसी यान काहे जी हम तो सुने थे कि भारत अपना खुद का ही एक ठो उडन खटोला चांद पर भेजने का तैयारी कर रहा है ..उसीमें । का आप लोग यी पार्टनरशिप पर ई धंधा शुरू किए हैं का जी ? अरे ई मंदी जो न कराए जी । क्या कहे ..ड्राईवर का वेकेन्सी के लिए सबसे बढिया भारतीय ही मिला है । भारत का ड्राईवर ..सायकिल मोटरसायकिल, टरेन , टरक , जहाज और हवाईजहाज सबको एके स्टाईल में चला सकता है , मजाल है कि एक मिनट भी खतरे का मजा न आए । ..ओह तो ई क्वालिफ़िकेशन देख के ...ठीक है ....हम तो कहते हैं कि दिल्ली में चलने वाले  ब्लू लाईन बस का ड्राईवर ले जाईये ...गजब का परफ़ोर्मेंस के साथ साथ ..मारक क्षमता भी कमाल का है उनका तो ...राईट लेफ़्ट ....दोनों तरफ़ का शिकार कर लेते हैं ऊ लोग ॥
_____________________________________
खबर :-गांव देहात में भी दिखेंगे एटीम

नज़र :- जे बात , आज तो हर तरफ़ विकास ही विकास दिख रहा है , ओहो आप लोग भी न मेरा मतलब दिन में तो दिख ही रहा है न , अब रात में बिजली नहीं रहती ,,का कहे खंबा भी नहीं है ...तो उससे का ...अरे एटीएम के विकास से बिजली का का कनेक्शन ? आज घर घर में मोबाईल है , टीवी है , डिश है , और अब एटीम भी होईये जाएगा । और कितना फ़ैसिलिटी चाहिए जी । .....अरे जाईये जाईये ..आप लोग तो बस जब देखो ..स्कूल , अस्पताल , उद्दोग धंधा , का रोना ले कर बैठ जाते हैं ...उससे ऊपर उठिए जी और थिंग बिग .......है कि नहीं ?????
_____________________________________

तो इसी के साथ आज के बुलेटिन समाप्त हुए ...मिलते हैं एक छोटे मोटे कौमर्शियल ब्रेक के बाद ....

7 टिप्‍पणियां:

  1. खबरों की खबर लाजवाब रही अजय भईया ।

    उत्तर देंहटाएं
  2. Bade dinon baad chatkare daar samachar mile.. ye to bahut sansanikhez hai bhai..

    उत्तर देंहटाएं
  3. कितना ख्याल है सरकार को और एक हम लोग हैं कि......

    उत्तर देंहटाएं
  4. "अजय जी खूब खबर ली आपने...."

    प्रणव सक्सैना amitraghat.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं
  5. hansa-hansa ke lot-pot kar diye bhai.. lekin aakhiri khabar ke bare me kahina hai ki bhai jab antee me ya bank me apne naam ka paisa hovega tabhi na ATM se nikalwe karenge sasur..

    उत्तर देंहटाएं
  6. अजय भाई,
    आप भी न, सरकार बेचारी हम सब का इतना ख्याल रख रही है और आप उसके पीछे लठ्ठ लेकर पड़े हैं...

    सरकार पेट्रोल के दाम नहीं घटा रही, जिससे आप वाहन चलाने बंद कर दो...प्रदूषण कम होगा, आपकी सेहत भी सही रहेगी...

    चीनी इतनी महंगी कर दो कि आप खाना ही छोड़ दो, न डायबिटीज होगी, हॉर्ट अटैक का खतरा भी कम हो जाएगा...

    खाने-पीने का सामान इतना महंगा हो जाएगा कि आप भूखे पेट ही गोपाला का भजन करने लग जाओगे...प्रभु की तरफ आप का ज़्यादा ध्यान लगने लगेगा...

    आबादी तेज़ी से घटेगी, देश अपने आप खुशहाल हो जाएगा...

    जय हिंद...

    उत्तर देंहटाएं

हमने तो खबर ले ली ..अब आपने जो नज़र डाली है..उसकी भी तो खबर किजीये हमें...

Google+ Followers